1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सिंघु बॉर्डर की नई तस्वीर सामने आई, किसानों के तंबू खाली देखिए वीडियो

सिंघु बॉर्डर की नई तस्वीर सामने आई, किसानों के तंबू खाली देखिए वीडियो

सिंघु बॉर्डर पर टेंट में सिर्फ चंद किसान बैठे नज़र आए। सिंघु बॉर्डर के किसानों के तंबू खाली हैं, सिर्फ यही नही जिस सड़क पर पहले ट्रैक्टर ट्रॉली खड़े रहते थे, प्रदर्शनकारियों के टेंट लगे होते थे वो सड़क अब पूरी तरह से खाली है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 14, 2021 13:01 IST

सिंघु बॉर्डर. देश की राजधानी नई दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है लेकिन अब इस प्रदर्शन की तस्वीर बदलती नजर आ रही है। किसान आंदोलन का बड़ा केंद्र रहे सिंघु बॉर्डर पर अब भीड़ छट चुकी है। पहले की तुलना में अब बहुत कम प्रदर्शनकारी ही सिंघु बॉर्डर पर बचे हैं। सिंघु बॉर्डर पर टेंट में सिर्फ चंद किसान बैठे नज़र आए। सिंघु बॉर्डर के किसानों के तंबू खाली हैं, सिर्फ यही नही जिस सड़क पर पहले ट्रैक्टर ट्रॉली खड़े रहते थे, प्रदर्शनकारियों के टेंट लगे होते थे वो सड़क अब पूरी तरह से खाली है। एक तरफ का पूरा रोड खाली हो गया है, जिसपर छोटी गाड़ियां भी चलने लगी हैं।

गाजीपुर बॉर्डर पहुंचीं महात्मा गांधी की पोती

महात्मा गांधी की पोती तारा गांधी भट्टाचार्य केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन का समर्थन करने के लिए शनिवार को गाजीपुर बॉर्डर पहुंची। राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय की अध्यक्ष तारा (84) ने प्रदर्शनकारी किसानों से विरोध-प्रदर्शन के दौरान शांति बनाए रखने की अपील की। साथ ही, उन्होंने सरकार से कृषक समुदाय की ‘‘सुध लेने’’ का भी अनुरोध किया। उनके साथ गांधी स्मारक निधि के अध्यक्ष रामचंद्र राही, ऑल इंडिया सर्व सेवा संघ के प्रबंध न्यासी अशोक सरन, गांधी स्मारक निधि के निदेशक संजय सिंह और राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय के निदेशक ए अन्नामलाई भी थे। 

पढ़ें- हर गांव में गोबर से पेंट बनाने की फैक्ट्री क्यों खुलवाना चाहते हैं गडकरी?

दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा पर यहां गाजीपुर में प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे बीकेयू के बयान के मुताबिक तारा गांधी भट्टाचार्य ने कहा, ‘‘हम यहां किसी राजनीतिक कार्यक्रम के तहत नहीं आए हैं। हम आज यहां किसानों के लिए आए हैं , जिन्होंने हम सभी को हमारे पूरे जीवन में अन्न दिया है।’’ उन्होंने प्रदर्शनकारियों से कहा, ‘‘हम आप सभी के चलते ही (जीवित) हैं। किसानों की भलाई में ही देश की ओर हम सब की भलाई है।’’

पढ़ें- सपा विधायक नाहिद हसन और उनकी मां तबस्सुम हसन की मुश्किलें बढ़ीं, पुलिस ने लगाया गैंगस्टर एक्ट

किसानों को गुमराह कर रहे हैं राहुल गांधी: आठवले
केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनरत किसानों को गुमराह कर रहे हैं। राजस्थान के रूपनगढ़ में शनिवार को एक रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा था कि नए कानूनों के जरिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के कृषि क्षेत्र को अपने दो दोस्तों के हवाले करना चाहते हैं। गांधी की आलोचना करते हुए आठवले ने पिंपरी चिंचवड़ में संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस नेता कृषि कानूनों और बड़े उद्योगपतियों के संबंध में आरोप लगाकर किसानों को गुमराह कर रहे हैं।

पढ़ें- राम मंदिर निर्माण के लिए 80 शिया अनाथों ने दिया दान

Click Mania
Modi Us Visit 2021