1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. ‘भ्रष्ट लोगों का क्लब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है’

‘भ्रष्ट लोगों का क्लब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है’

जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि भ्रष्ट लोगों का क्लब अब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 05, 2019 9:38 IST
‘भ्रष्ट लोगों का क्लब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है’- India TV
‘भ्रष्ट लोगों का क्लब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है’

नई दिल्ली: सीबीआई बनाम ममता बनर्जी के बीच चल रहा घमासान पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकता में आज तीसरे दिन भी जारी है। कोलकाता में ममता के इस सियासी ड्रामे पर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने तल्ख टिप्पणी की है। जेटली ने ममता के समर्थन में आए सियासतदानों पर भी निशाना साधा और कहा कि भ्रष्ट लोगों का क्लब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है। जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि भ्रष्ट लोगों का क्लब अब भारत की सत्ता हथियाना चाहता है। 

Related Stories

जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट आगे लिखा, ‘’कोर्ट की निगरानी में जांच चल रही है, कई लोग गिरफ्तार हो चुके हैं, कुछ लोग ज़मानत पर बाहर है, अगर एक पुलिस ऑफिसर से पूछताछ की ज़रूरत पड़ती है तो ये सुपर इमरजेंसी या संघीय ढांचे पर हमला या संस्थानों की बर्बादी कैसे हो गई? ममता की रणनीति क्या है? ममता चाहती है कि विपक्ष के दूसरे नेताओं से लोगों का ध्यान हट कर उन पर आ जाय और वो विपक्ष के नेता बन जाएं।‘’

जेटली ने ममता पर निशाना साधते हुए कहा, ‘’ममता के सभी सहयोगियों में एक बात समान है। उनके बिहार के सहयोगी दोषी साबित हुए हैं। उनके आंध्र प्रदेश के दोस्त ठेकेदारों और मनी लॉंड्रिग करने वालों की पार्टी चलाते हैं। उनके दिल्ली सरकार के अराजक भाई का विवेक खत्म हो चुका है क्योंकि उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों की फर्जी कंपनियां सामने आ गई हैं।‘’

उन्होंने आगे लिखा, ‘’कांग्रेस के अध्यक्ष अपनी बात से पलटते हुए अब शारदा घोटाले के आरोपियों से कंधा मिलाने लगे हैं। ये पलटने वाले कांग्रेस के उस पहले परिवार से हैं जिनके ज्यादातर सदस्य ज़मानत पर हैं। क्या नया भारत इन भ्रष्टाचारियों के क्लब से चल सकता है?’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment