Saturday, May 25, 2024
Advertisement

सावरकर को देशभक्त नहीं पढ़ाएगी राजस्थान की कांग्रेस सरकार, पूर्व की BJP सरकार का फैसला बदला

3 साल पहले ही राज्य की भाजपा सरकार ने वीर सावरकर को पाठ्यक्रम में शामिल कर उन्हें वीर महान देशभक्त क्रांतिकारी बताया था

Reported by: Manish Bhattacharya @Manish_IndiaTV
Updated on: May 13, 2019 16:44 IST
Rajasthan government to not teach Veer Savarkar as freedom fighter for its 10th class students- India TV Hindi
Rajasthan government to not teach Veer Savarkar as freedom fighter for its 10th class students

जयपुर। राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने पूर्व में राज्य की भारतीय जनता पार्टी सरकार के एक और फैसले को पटल दिया है। राज्य में अब 10वीं के छात्रों को यह पढ़ाया जाएगा की स्वतंत्रता सैनानी वीर सावरकर देशभक्त नहीं थे, मौजूदा कांग्रेस सरकार ने फैसला किया है कि सावरकर के बाते में बताया जाएगा कि उन्होंने जेल से बचने के लिए अंग्रेजों से दया याचिका की थी।

पिछली भाजपा सरकार मे किताबों मे जनसंघ के वीरसावरकर को महान क्रातिकारी, देशभक्त और आजीवन देश की स्वतंत्रता का तप करनेवाला बताया था लेकिन गहलोत सरकार ने आते ही तमाम संघ से जुड़े हुए शहीदो की कहानी पाठ्यक्रम मे बदलनी शुरु कर दी। लोकसभा चुनाव राजस्थान मे खत्म हुआ ही है कि गहलोत सरकार ने वीर सावरकर को दसवी की किताब मे अंग्रेजो से दया याचना मागने वाला दिखा दिया जिसके बाद हंगामा भी शुरु हो गया और बयान बाजी भी। 

बीजेपी बयान के बाद राजस्थान के शिक्षा मंत्री भी अपने सर्कुलर को लेकर बयानबाजी मे कूद गये और साफ कह दिया कि भाजपा ने पहले तमाम शहीदो व विभूतियों के नाम को बदला था लिहाजा इस सरकार मे किया तो गलत क्या किया। शिक्षा मंत्री गोविन्द ढोढासरा कहना है कि जो भी फैसला कमेटी द्दारा लिया गया वो बिल्कुल सही है और इतिहास मे भी इसीका जिक्र है। राजस्थान मे ये कोई नया विवाद नहीं है इससे पहले भी गहलोत सत्ता मे आते ही कैबिनेट की पहली बैठक मे सघ से जुडे हुये लोगो पाठ्यक्रम से हटवा दिया था।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement