1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. चीन में तेजी से कोरोना वायरस फैलने के कारण दिल्ली, मुंबई एयरपोर्ट में अलर्ट, ट्रेवल करते समय ध्यान रखें ये बातें

चीन में तेजी से कोरोना वायरस फैलने के कारण दिल्ली, मुंबई एयरपोर्ट में अलर्ट, ट्रेवल करते समय ध्यान रखें ये बातें

दुनिया भर में नोवेल कोरोना वायरस (एनसीओवी) से 14 लोगों की मृत्यु के मामले सामने आए हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इसकी पुष्टि की है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: January 17, 2020 21:11 IST
coronavirus- India TV
coronavirus

दुनिया भर में नोवेल कोरोना वायरस (एनसीओवी) से 14 लोगों की मृत्यु के मामले सामने आए हैं। भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इसकी पुष्टि की है। नोवेल कोरोना वायरस से मरने वालों में एक व्यक्ति चीन का भी है। केंद्रीय स्वास्थ मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के मुताबिक नोवेल कोरोना वायरस (एनसीओवी) की गहन समीक्षा की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिल्ली, मुंबई व कोलकाता हवाईअड्डों पर चीन से आने वाले अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों की एहतियातन थर्मल स्कैनर के जरिए जांच करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में विमानों में भी घोषणाएं की जा रही हैं। चीन जाने वाले और वहां से आने वाले यात्रियों के लिए परामर्श जारी किया गया है। यह परामर्श स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

नोवेल कोरोना वायरस का ताजा मामला चीन के वुआन प्रांत में सामने आया। यहां पांच जनवरी को नोवेल कोरोना वायरस से एक व्यक्ति की मृत्यु हुई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार वायरस अभी विकसित हो रहा है।

सर्दियों में गोंद खाने के है बेहतरीन फायदे, डायबिटीज, मोटापा सहित इन बीमारियों से मिलेगा निजात

कैसे फैलता है ये वायरस

डब्ल्यूएचओ की प्राथमिक जांच से मिली जानकारी के मुताबिक, यह वायरस सी-फूड से जुड़ा है। कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है और इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं। यह वायरस ऊंट, बिल्ली तथा चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है। दुर्लभ स्थिति में पशु मनुष्यों को भी संक्रमित कर सकते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने बयान में कहा कि सबसे अधिक चिंताजनक बात यह है कि अलग-अलग देशों में मरीजों के अलग-अलग समूहों की गहन पड़ताल से यही बात पुष्ट होती है कि यह नया वायरस नजदीकी संपर्क के कारण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है।

कहां से आया ये वायरस
बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, इंग्लैंड के एक परिवार के तीन सदस्यों से संक्रमित हो गए। इसमें से एक सदस्य की मौंत हॉस्पिटल में हो गई थी। अनुमान लगाया गया कि मध्य पूर्व और पाकिस्ताव की अपनी यात्रा के दौरान इस परिवार का एक सदस्य इस वायरस से संक्रमित हो गया था। यह नया वायरसों के उसी समूह से आता है जिसकी वजह से एशिया में साल 2003 में सिवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स) एक महामारी के रुप में सामने आया था।

पीरियड्स से कुछ दिन पहले लड़कियों को होती है PMS की समस्या, मूड स्विंग से लेकर सुसाइड के आते है ख्याल

अगर आप ट्रेवल कर रहे हैं तो रखें इन बातों का ध्यान

  • चीन जाने वाले और वहां से आने वाले यात्रियों के लिए परामर्श जारी किया गया है। यह परामर्श स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है। इन्हें जरुर करें फॉलो। 
  • जानवरों से दूरी बना कर रखें, एनिमल मार्केट और बिना पका हुआ मीट से दूर रहें। 
  • बीमार व्यक्ति से दूर रहें। 
  • अपने हाथों को कम से कम 20 सेकंड धोएं। इसके साथ ही एल्कोहॉल बेस्ड हैंडवॉश का इस्तेमाल करें। 

अगर कोई इस वायरस से हो जाए ग्रसित

  • घर पर ही रहें। इसके साथ ही लोगों से दूरी बनाए और मेडिकल केयर लें। 
  • किसी डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें। इसके साथ ही उसे अपने लक्षण और यात्रों के बारे में बताए। 
  • अगर बीमार हो तो यात्रा न करें। 
  • हमेशा खासंते या छींकते समय अपने नाक और मुंह को जरुर ढक लें। जिससे किसी दूसरे को इफेक्ट न करें। 
  • अपने हाथों को कम से कम 20 सेकंड धोएं। इसके साथ ही एल्कोहॉल बेस्ड हैंडवॉश का इस्तेमाल करें। 

इनपुट आईएएनएस

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment