1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. हार्ट अटैक का सामना कर चुके मरीजों के लिए योग का प्रोग्राम पारंपरिक पुनर्वास थेरेपी की तरह ही सुरक्षित: स्टडी

हार्ट अटैक का सामना कर चुके मरीजों के लिए योग का प्रोग्राम पारंपरिक पुनर्वास थेरेपी की तरह ही सुरक्षित: स्टडी

दिल का दौरा का सामना कर चुके मरीजों के लिए योग आधारित पुनर्वास कार्यक्रम पारंपरिक पुनर्वास थेरेपी जितना ही सुरक्षित है। यह बात एक नये अध्ययन में सामने आयी है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Published on: November 11, 2018 20:17 IST
Heart attack- India TV Hindi
Heart attack

हेल्थ डेस्क: दिल का दौरा का सामना कर चुके मरीजों के लिए योग आधारित पुनर्वास कार्यक्रम पारंपरिक पुनर्वास थेरेपी जितना ही सुरक्षित है। यह बात एक नये अध्ययन में सामने आयी है।

पांच  साल की स्टडी के बाद ये रिजल्ट आया । जिसे शिकागो में 'अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन साइंटीफिक सेशन' में पेश किए गए। इसे 'इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर)' और मेडिकल रिसर्च काउंसिल (यूके) द्वारा वित्तपोषित किया गया था।

एम्स में कार्डियोलॉजी के प्रोफेसर डा. अंबुज रॉय ने बताया कि अध्ययन में दिल का दौरा का सामना कर चुके मरीजों में क्लिनिकल परिणामों के संबंध में योग आधारित 'कार्डिएक रिहैबिलिटेश' (योग केयर) की तुलना ‘एंहांस्ड स्टैंडर्ड केयर’ (ईएससी) से की गई।

अध्ययन में पता चला कि योग केयर में पारंपरिक कार्डिएक रिहैबिलिटेशन प्रोग्राम का विकल्प होने और भारत और अन्य देशों में दिल का दौरा का सामना करने वाले मरीजों की जरूरतों को पूरा करने की क्षमता है।

अध्ययन भारत में 24 केंद्रों पर किया गया और इसमें करीब 4000 मरीजों को शामिल किया गया।

(इनपुट भाषा)

तेजी से करना है वजन कम, तो इस समय जरुर लें झपकी

दिवाली के बाद होने वाले एयर पॉल्यूशन को न लें हल्के में, बच्चों के फेफड़े पर पड़ रहा है बुरा असर

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
X