1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. पितृ पक्ष के एक महीने बाद शुरू होगी नवरात्रि, 165 साल बाद बन रहा ये अद्भुत संयोग

पितृ पक्ष के एक महीने बाद शुरू होगी नवरात्रि, 165 साल बाद बन रहा ये अद्भुत संयोग

अश्विन के महीने में देवी दुर्गा को समर्पित नवरात्रि का नौ दिवसीय त्योहार आमतौर पर पितृ पक्ष के समाप्त होने के तुरंत बाद शुरू होता है। हालांकि, इस साल भक्तों को एक महीने तक नवरात्रि मनाने के लिए इंतजार करना होगा। जानिए इसके पीछे की वजह क्या है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: August 30, 2020 14:19 IST
Navratri- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/THAKURDEKHA Navratri

अश्विन के महीने में देवी दुर्गा को समर्पित नवरात्रि का नौ दिवसीय त्योहार आमतौर पर पितृ पक्ष के समाप्त होने के तुरंत बाद शुरू होता है। हालांकि, इस साल भक्तों को एक महीने तक नवरात्रि मनाने के लिए इंतजार करना होगा। ऐस में सवाल ये उठता है कि इस साल ऐसा क्या हो गया कि भक्तों को नवरात्रि के लिए महीनेभर का इंतजार करना पड़ेगा। जानिए इसके पीछे की वजह क्या है। 

165 साल बाद बन रहा है ये अद्भुत संयोग

पितृ पक्ष इस बार 1 सितंबर से शुरू हो रहा है और 17 सितंबर तक चलेगा। जिसके बाद आमतौर पर नवरात्रि शुरू हो जाती है। लेकिन इस बार मां दुर्गा के भक्तों को नवरात्रि के लिए एक महीने का इंतजार करना होगा। इस बार नवरात्रि पितृ पक्ष खत्म होने के तुरंत बाद नहीं बल्कि एक महीने बाद शुरू हो रही है। 

ये एक महीने का अंतर अधिमास या अधिकमास है। इसी अधिमास के चलते श्राद्ध और नवरात्रि के बीच मलमास लगेगा। इसी वजह से एक महीने का अंतर पितृ पक्ष और नवरात्रि के बीच हो रहा है। ये अद्भुत संयोग करीब 165 साल बाद आने जा रहा है जब अश्विन मास में मलमास लगेगा। 

एक महीने के लिए लग रहा मलमास
इस साल ये मलमास 18 सितंबर 2020 से 16 अक्टूबर 2020 तक चलेगा। इसके अगले दिन यानि कि 17 अक्टूबर 2020 से नवरात्रि शुरू हो जाएंगे। 

जानिए क्या होता है अधिमास या मलमास
एक सूर्यवर्ष की अवधि 365 दिन और 6 घंटे की होती है जबकि चंद्र वर्ष की अवधि 354 दिन होती है। गणना करने पर सूर्य वर्ष और चंद्र वर्ष के बीच करीब 11 दिनों का अंतर होता है। इन दोनों के बीच 11 दिनों का यह अंतर हर तीन साल में करीब एक महीने के बराबर होता है। इसी एक महीने के अंतर को खत्म करने के लिए हर तीन साल में एक चंद्र मास अतिरिक्त या अधिक आता है। इसी अतिरिक्त चंद्र मास को अधिमास या मलमास कहते हैं। 

जानिए किस दिन है कौन सा नवरात्र

नवरात्रि दिन 1- मां शैलपुत्री पूजा घटस्थापना 17 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 2 - मां ब्रह्मचारिणी पूजा 18 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 3- मां चंद्रघंटा पूजा 19 अक्टूबर 2020
नवरात्रि दिन 4- मां कुष्मांडा पूजा 20 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 5- मां स्कंदमाता पूजा 21 अक्टूबर 2020
नवरात्रि दिन 6- मां कात्यायनी पूजा 22 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 7- सप्तमी मां कालरात्रि पूजा 23 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 8- मां महागौरी दुर्गा महा नवमी पूजा दुर्गा महा अष्टमी पूजा 24 अक्टूबर 2020
नवरात्रि दिन 9- मां सिद्धिदात्री नवरात्रि पारणा विजय दशमी 25 अक्टूबर 2020 
नवरात्रि दिन 10- दुर्गा विसर्जन 26 अक्टूबर 2020 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment