Saturday, March 02, 2024
Advertisement

iPhone का ये फीचर है बड़े काम का, पल भर में ट्रैक होती है जासूसी, तुरंत ऑन कर लें ये सेटिंग

एप्पल अपने यूजर्स की सेफ्टी और प्राइवेसी का विशेष तौर पर ध्यान रखती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए कंपनी आईफोन्स पर प्राइवेसी से जुड़े कई सारे फीचर्स देती है। ऐसा ही एक फीचर है Contact Key Verification का। इस फीचर की मदद से आप पता कर सकते हैं कि कहीं कोई आपका फोन हैक तो नहीं कर रहा ।

Gaurav Tiwari Written By: Gaurav Tiwari
Updated on: November 01, 2023 13:23 IST
state sponsored attacks, apple state sponsored attack, apple warning state sponsored attack- India TV Hindi
Image Source : फाइल फोटो एप्पल हमेशा ही यूजर्स की प्राइवेसी को लेकर बेहद सजग रहता है।

एप्पल एक प्रीमियम टेक कंपनी है। कंपनी अपने यूजर्स की प्राइवेसी का विशेष तौर पर ध्यान रखती है। एप्पल आईफोन प्राइवेसी सेफ्टी के मामले में सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं। पिछले एक दो दिन में कुछ ऐसा हुआ जिसने आईफोन्स को सुर्खियों में ला दिया। दरअसल मंगलवार को भारत के कई विपक्षी नेताओं ने अपने फोन हैकिंग से जुड़े स्क्रीनशॉट शेयर किए। उन्होंने बताया कि उन्हें ऐपल की तरफ से भेजे गए नोटिफिकेशनमें सरकार प्रायोजित हैकिंग को लेकर अलर्ट किया गया है। 

इस पूरे मामले के बाद एप्पल आईफोन्स में मिलने वाले प्राइवेसी फीचर्स काफी सुर्खियों में छाए हुए हैं। आज हम आपको आईफोन्स के एक ऐसे फीचर के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिससे आप कुछ ही सेकंड में जान सकते हैं कि कहीं कोई आपका फोन हैक तो नहीं कर रहा। 

तुरंत ट्रैक होगी फोन की जासूसी

आपको बता दें कि सरकार प्रायोजित हैकिंग को लेकर एप्पल अलग से अलर्ट भेजता है। एप्पल की तरफ से यह खास फीचर पिछले साल ही सिस्टम में जोड़ा गया है। एप्पल हमेशा ही अपनी सिक्योरिटी को लेकर बेहद सजग रहता है। कंपनी ने आईफोन्स में ऐसा सिस्टम दिया है जिससे हैंकिंग को तुरंत पकड़ा जा सकता है। 

बता दें हैकिंग के बचने के लिए एप्पल ने अपने यूजर्स को Contact Key Verification नाम का खास फीचर दिया है। यह एप्पल का नया सिक्योरिटी फीचर है जो iCloud और iMessage पर काम करता है। कंपनी ने इसे लॉन्च करते हुए बताया था कि इस फीचर को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि iMessage को यह साइबर अटैक या फिर सरकार प्रायोजित अटैक से बचा सकता है। 

दूसरे यूजर का अकाउंट कर सकते हैं वेरिफाई

इस फीचर की मदद से आईफोन्स यूजर्स यह कंफर्म कर सकते हैं कि वह उसी व्यक्ति से चैट कर रहे हैं जिससे वह बात करना चाहते हैं। यानी यह फीचर दूसरे यूजर के अकाउंट को वेरिफाई करता है। अगर कोई यूजर  Contact Key Verification को ऑन रखता है तो उसे अनजान iMessage से कॉन्टेक्ट होने पर तुरंत अलर्ट मिल जाता है। 

आपको बता दें कि ऐप्पल को जैसे ही किसी स्टेट स्पॉन्सर्ड अटैक की जानकारी मिलती है वह यूजर्स को दो तरह से इनफॉर्म करता है। पहला ये कि कंपनी iMessage के माध्यम से यूजर्स की ऐपल आईडी पर दर्ज नंबर थ्रेड नॉटिफिकेशन भेजता है। इसके साथ ही कंपनी यूजर्स को रजिस्टर्ड ईमेल पर भी एक थ्रेट नॉटिफिकेशन भेजा जाता है। 

यह भी पढ़ें- करवा चौथ में iPhone का ये मॉडल उम्मीद से ज्यादा हो गया सस्ता, कीमत में आई बड़ी गिरावट

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Tech News News in Hindi के लिए क्लिक करें टेक सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement