1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पश्चिम बंगाल
  4. ममता बनर्जी ने कहा, मैं भारत को पाकिस्तान या तालिबान नहीं बनने दूंगी

ममता बनर्जी ने कहा, मैं भारत को पाकिस्तान या तालिबान नहीं बनने दूंगी

इलाके के व्यवसायी समुदाय को रिझाने के लिए बनर्जी ने कहा कि वह देश की पहली नेता हैं जिन्होंने 2016 में नोटबंदी का विरोध किया था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 16, 2021 22:29 IST
Mamata Banerjee, Mamata Banerjee Bhabanipur, Mamata Banerjee Pakistan- India TV Hindi
Image Source : PTI पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि वह देश को पाकिस्तान या तालिबान नहीं बनने देंगी।

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि वह देश को पाकिस्तान या तालिबान नहीं बनने देंगी। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी ने दावा किया है कि दक्षिण कोलकाता स्थित भवानीपुर विधानसभा सीट से अगर तृणमूल कांग्रेस जीतती है तो यह पाकिस्तान बन जाएगा। तृणमूल कांग्रेस की नेता बनर्जी ने आरोप लगाया कि बीजेपी के नेता केवल विभाजन की राजनीति की भाषा समझते हैं। बता दें कि तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो भवानीपुर से उपचुनाव लड़ रही हैं।

ममता को CM बने रहने के लिए उपचुनाव जीतना जरूरी

बनर्जी ने प्रचार के दौरान कहा, ‘मैं बीजेपी की नीतियां और राजनीति पसंद नहीं करती। वे लोगों को धार्मिक आधार पर बांटने की राजनीति करते हैं। नंदीग्राम में उन्होंने कहा था कि यह पाकिस्तान बन जाएगा (अगर टीएमसी जीतती है)। भवानीपुर में भी वे कह रहे हैं कि यह पाकिस्तान बन जाएगा। यह शर्मनाक है।’ इस वर्ष हुए विधानसभा चुनाव में नंदीग्राम सीट से बनर्जी बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी से हार गई थीं। मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए उन्हें उपचुनाव में जीतना जरूरी है।

‘मैं कभी भी अपने देश को पाकिस्तान नहीं बनने दूंगी’
इलाके के मतदाताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं चाहती हूं कि मेरा देश मजबूत बने और पूरी ताकत से मैं अपनी मातृभूमि की रक्षा करूंगी। हम नहीं चाहते कि भारत एक और तालिबान (शासित देश) बने। मैं कभी भी अपने देश को पाकिस्तान नहीं बनने दूंगी।’ इलाके में हाल में एक मस्जिद में जाने पर आपत्ति जताने के लिए राज्य बीजेपी नेतृत्व की आलोचना करते हुए बनर्जी ने कहा कि भगवा दल को उनके गुरुद्वारा जाने से भी समस्या है।

‘2016 में मैंने सबसे पहले नोटबंदी का विरोध किया था’
उन्होंने कहा, ‘मैं एक मस्जिद में गई, मैं गुरुद्वारा में भी गई, और भाजपा को दोनों से समस्या है। मैं राजनीति में धर्म नहीं लाती, जबकि बीजेपी के नेता केवल विभाजन की राजनीति की भाषा समझते हैं।’ भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में हिंदी भाषी लोगों की अच्छी खासी संख्या के बारे में टीएमसी की प्रमुख ने कहा कि वह उनके साथ हर सुख-दुख में खड़ी रहेंगी। इलाके के व्यवसायी समुदाय को रिझाने के लिए बनर्जी ने कहा कि वह देश की पहली नेता हैं जिन्होंने 2016 में नोटबंदी का विरोध किया था। (भाषा)

Click Mania
bigg boss 15