Saturday, May 18, 2024
Advertisement

दक्षिण प्रशांत महासागर में जापानी नौसेना के 2 हेलीकॉप्टर हुए दुर्घटना के शिकार, हादसे में 1 व्यक्ति की मौत और 7 लापता

जापानी नौसेना के दो हेलीकॉप्टर प्रशिक्षण के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गए हैं। यह दिल दहला देने वाला हादसा दक्षिण प्रशांत महासागर में हुआ। इस दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई, अन्य 7 लोग लापता हैं। लापता लोगों की तलाश की जा रही है।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: April 21, 2024 10:56 IST
जापानी नौसेना का हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद।- India TV Hindi
Image Source : AP जापानी नौसेना का हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद।

टोकियोः जापानी नौसेना में बड़ा हादसा हुआ है। सामने आ रही जानकारी के अनुसार जापानी नौसेना के दो हेलीकॉप्टर प्रशिक्षण के दौरान टोकियो के दक्षिण में दुर्घटनाग्रस्त हो गए हैं। यह दुर्घटना प्रशांत महासागर में हुई है, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि सात अन्य लोग अभी लापता है। लापता लोगों की तलाश में नौसेना के जवान जुटे हैं। देश के रक्षा मंत्रालय ने रविवार को यह जानकारी दी। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि शनिवार रात प्रशिक्षण के दौरान दोनों हेलीकॉप्टर एक दूसरे से टकरा गए। इन हेलीकॉप्टर में चालक दल के आठ सदस्य सवार थे।

रक्षा मंत्री मिनोरू किहारा ने संवाददाताओं को बताया कि समुद्री आत्मरक्षा बल (एमएसडीएफ) के दो एसएच-60के हेलीकॉप्टर में चालक दल के चार-चार सदस्य सवार थे और शनिवार देर रात तोक्यो से लगभग 600 किलोमीटर दक्षिण में तोरीशिमा द्वीप के पास उनसे संपर्क टूट गया। किहारा ने बताया कि इस हादसे का कारण अभी पता नहीं चला है लेकिन दोनों हेलीकॉप्टर संभवत: आपस में टकराने के बाद पानी में गिरे।

डेटारिकॉर्डर और हेलीकॉप्टर के टुकड़े बरामद

उन्होंने कहा कि बचावकर्मियों ने एक उड़ान डेटा रिकॉर्डर, प्रत्येक हेलीकॉप्टर से एक ब्लेड और एक ही क्षेत्र में दोनों हेलीकॉप्टर के टुकड़े बरामद किए हैं, जो संकेत देते हैं कि दोनों एसएच-60के एक-दूसरे के करीब उड़ रहे थे। अधिकारी यह पता लगाने के लिए उड़ान संबंधी डेटा का विश्लेषण करेंगे कि दुर्घटना का कारण क्या था। एमएसडीएफ ने चालक दल के लापता सदस्यों की तलाश और बचाव के लिए आठ युद्धपोत और पांच विमान तैनात किए। सिकोरस्की द्वारा विकसित और सीहॉक्स के नाम से जाने जाने वाले इन हेलीकॉप्टर में दोहरे इंजन थे। इनमें ‘मित्सुबिशी हेवी इंडस्ट्रीज’ ने बदलाव किया था और इनका निर्माण किया था। (एपी)

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement