1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. जंग की आहट? चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना से कहा- हमेशा तैयार रहें

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना से प्रशिक्षण एवं युद्ध कौशल बढ़ाने को कहा

चीन में सशस्त्र बलों की शक्तियों का विस्तार करने वाले नए संशोधित कानून के इस साल से प्रभाव में आने के बीच राष्ट्रपति शी चिनपिंग ने सेना से अपने युद्ध कौशल को और तराशने एवं बिल्कुल चौकस रहने के लिए प्रशिक्षण को मजबूत करने को कहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 05, 2021 21:34 IST
Xi Jinping, Xi Jinping PLA, Xi Jinping Chinese Military, PLA, Chinese military, People's Liberation - India TV Hindi
Image Source : AP FILE चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग ने सेना से अपने युद्ध कौशल को और तराशने एवं बिल्कुल चौकस रहने के लिए प्रशिक्षण को मजबूत करने को कहा है।

बीजिंग: चीन में सशस्त्र बलों की शक्तियों का विस्तार करने वाले नए संशोधित कानून के इस साल से प्रभाव में आने के बीच राष्ट्रपति शी चिनपिंग ने सेना से अपने युद्ध कौशल को और तराशने एवं बिल्कुल चौकस रहने के लिए प्रशिक्षण को मजबूत करने को कहा है। बीजिंग में आधिकारिक मीडिया ने मंगलवार को खबर दी कि केंद्रीय सैन्य आयोग (CMC) के साथ साथ सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के प्रमुख शी (67) ने 2021 के लिए आयोग के पहले आदेश पर दस्तखत किये जिसमें पीपुल्स लिबरेशन आर्मी और पीपुल्स आर्म्ड पुलिस फोर्स के प्रशिक्षण में प्राथमिकताओं को सूचीबद्ध किया गया है। CMC 20 लाख सैन्यकर्मियों की सेना का हाईकमान है।

जनवरी 2018 में दिया गया था पहला ऐसा आदेश

इस नए आदेश में सशस्त्र बलों को नये युग में चीनी विशिष्टताओं के साथ शी जिनपिंग की समाजवाद की सोच को अपने मार्गदर्शन सिद्धांत के तौर पर लेने तथा सेना एवं सैन्य रणनीतियों की मजबूती के संदर्भ में शी के विचारों पर चलने का निर्देश दिया गया है। सरकारी अखबार चाईना डेली की खबर के अनुसार उसमें कहा गया है कि सीसीपी सेना के प्रशिक्षण पर अपना मार्गदर्शन बढ़ाएगी तथा सेना से अपनी लड़ाकू तैयारी सुधारने एवं अपने प्रशिक्षण तंत्र में सुधार जारी रखने पर ध्यान देने की भी अपील की गयी है। पहला ऐसा आदेश जनवरी, 2018 में जारी किया गया था जब शी ने उत्तरी चीन के एक शूटिंग रेंज में एक विशाल प्रशिक्षण कार्यक्रम को संबोधित किया था।

‘किसी भी सैन्य कार्रवाई के लिए हमेशा तैयार रहें’
शी 2012 के आखिरी में कमांडर इन चीफ बने थे और तब से उन्होंने सशस्त्र बलों के लिए लड़ाकू तैयारी प्रशिक्षण एवं संयुक्त अभियानों के महत्व पर बार-बार बल दिया है। इस साल अपने आदेश में उन्होंने कहा कि सेना अपने अधिकारियों एंव सैनिकों को असली युद्ध परिदृश्य में प्रशिक्षित करे, युद्ध एवं सैन्य अभियानों के बारे में शोध पर अधिक ध्यान दे, अभ्यास की मारकता बढाए, आपात स्थिति संबंधी अभ्यास अधिक करे, हाईअलर्ट रहे ताकि सैनिक किसी भी सैन्य कार्रवाई के लिए सदैव तैयार रहे। उसमें कहा गया है कि संयुक्त अभियानों के लिए प्रशिक्षण एवं अभ्यास को प्राथमिकता दिया जाए तथा सेना समेकित संयुक्त लड़ाकू क्षमता निखारने के लिए अंतरसेवा प्रशिक्षण को तेज करना चाहिए। 

लगातार चौथे साल शी ने जारी किया ऐसा निर्देश
साल 2021 चौथा लगातार वर्ष है जब शी ने केंद्रीय सैन्य कमीशन की ओर से साल के पहले निर्देश के तौर पर सेना के लिए प्रशिक्षण आदेश जारी किया है। यह संशोधित राष्ट्रीय रक्षा कानून इस साल एक जनवरी से प्रभाव में आया है जिसमें घरेलू और विदेशों में राष्ट्रीय हितों की रक्षा के लिए सैन्य एवं असैन्य संसाधनों को लगाने के लिए शी की अगुवाई में सशस्त्र बलों की शक्ति का विस्तार किया गया है। (भाषा)

bigg boss 15