1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. MH370 का रास्ता जानबूझकर बदला गया था? जानें, जांच के बाद ऑफिशल रिपोर्ट में क्या आया

MH370 का रास्ता जानबूझकर बदला गया था? जानें, जांच के बाद ऑफिशल रिपोर्ट में क्या आया

आज से लगभग 4 साल पहले 8 मार्च 2014 को कुआलालंपुर से पेइचिंग जा रहा एक विमान रहस्यमय तरीके से लापता हो गया था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 30, 2018 17:48 IST
New MH370 probe shows controls manipulated, mystery remain unsolved | AP Graphic- India TV
New MH370 probe shows controls manipulated, mystery remain unsolved | AP Graphic

पुत्रजय: आज से लगभग 4 साल पहले 8 मार्च 2014 को कुआलालंपुर से पेइचिंग जा रहा एक विमान रहस्यमय तरीके से लापता हो गया था। मलेशिया एयरलाइंस की फ्लाइट संख्या 370 में उस दिन कुल 239 यात्री सवार थे। 4 साल बीत जाने के बाद भी उनमें से किसी भी यात्री का पता नहीं चल पाया है। सोमवार को फ्लाइट MH370 की ऑफिशल रिपोर्ट आई जिसमें कहा गया है कि यह जहाज तकनीकी खामी के चलते अपने रास्ते से नहीं भटका था बल्कि इसका रूट चेंज किया गया था। हालांकि रिपोर्ट में इसकी भी सही से पुष्टि नहीं की गई।

पायलटों ने बदला था रास्ता?

इस रिपोर्ट में ऐसा कुछ भी नया नहीं है जो पहले से चल रही थ्योरी से अलग हो। इसके सामने आने के बाद विमान में सवार रहे लोगों के रिश्तेदारों में निराशा और आक्रोश है। आधिकारिक जांच दल की रिपोर्ट में एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स की नाकामी की बात कही गई और अनुमान लगाया गया कि मलेशिया एयरलाइंस का विमान संभवत: तकनीकी खामी की वजह से नहीं बल्कि पायलटों द्वारा उड़ान के वास्तविक मार्ग से भटक गया। इसका मतलब इस बात की संभावना है कि पायलटों ने उसे वास्तविक रास्ते से भटकाया हो। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि विमान उड़ान से पहले सही हालत में था और पायलट भी इसे उड़ाने के लिए फिट थे। 

कैप्टन ने कहा था, गुड नाइट मलेशियन 370
MH370 से आखिरी बार संपर्क तब हुआ था जब प्लेन के कैप्टन जहारी अहमद शाह ने मलेशियाई एयरस्पेस को छोड़ने से पहले 'गुड नाइट, मलेशियन 370' कहा था। इस विमान का गायब होना दुनिया में एविएशन के अब तक के इतिहास का सबसे बड़ा रहस्य बन गया है। जांचकर्ताओं ने रिपोर्ट में बताया है कि विमान के साथ वास्तव में क्या हुआ था, यह तय नहीं हो पाया है। जांच टीम के प्रमुख कोक सू चोन ने पत्रकारों को बताया, 'इसका सही-सही जवाब तभी मिल सकता है जब विमान का मलबा मिले।'​

जांच रिपोर्ट से निराश हैं हादसे के शिकार लोगों के परिजन
विश्व के सबसे बड़े उड़ान रहस्य में कई सालों की बेनतीजा खोज के बाद आई रिपोर्ट में कुछ भी ठोस ऐसा नहीं है जो लापता यात्रियों के रिश्तेदारों को ढांढस दे। इस फ्लाइट में सवार ज्यादातर लोग चीनी नागरिक थे। 400 पेज की इस आधिकारिक रिपोर्ट में कहा गया है, ‘टीम एमएच 370 के लापता होने के असली कारण का पता लगाने में नाकाम रही।’ जिन लोगों के अपने इस विमान में सवार थे उन्होंने आधिकारिक रिपोर्ट पर नाराजगी और निराशा जताई और कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है। इस विमान में अपना बेटा खोने वाले जी सुब्रमण्यम ने कहा, ‘कई ऐसे सवाल हैं जिनका जवाब नहीं मिला है। असंतोषजनक जवाब से कई लोग नाराज हैं।’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X