Pakistan News: बाढ़ से बेहाल पाकिस्तान में बिगड़ा किचन का बजट, 500 और 400 रुपये/प्रति किलो तक पहुंचे टमाटर और प्याज के दाम, भारत से मदद की उम्मीद

Pakistan News: लाहौर मार्केट कमेटी के सचिव शहजाद चीमा ने कहा कि बाढ़ के कारण सब्जियों की भी बाजार में कमी हो गई है। सरकार भारत से प्याज और टमाटर का आयात कर सकती है।

Shashi Rai Edited By: Shashi Rai @km_shashi
Published on: August 29, 2022 8:11 IST
representative image- India TV Hindi News
Image Source : INDIA TV representative image

Highlights

  • बाढ़ से बेहाल पाकिस्तान
  • आसमान छू रहे सब्जियों के दाम
  • आसमान छू रहे सब्जियों के दाम

Pakistan News: पाकिस्तान इन दिनों बाढ़ की चपेट में है। देशभर में हालात खराब हैं। लेकिन लाहौर और पंजाब प्रांत के अन्य हिस्सों में आये विनाशकारी बाढ़ के चलते सब्जियों और फलों की कीमतों में भारी उछाल के बीच पाकिस्तान सरकार भारत से टमाटर और प्याज का आयात कर सकती है। बाजार के थोक व्यापारियों ने यह जानकारी दी। लाहौर बाजार के एक थोक व्यापारी जवाद रिजवी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘रविवार को लाहौर के बाजारों में टमाटर और प्याज की कीमत क्रमश: 500 रुपये और 400 रुपये किलो रहा । हालांकि, रविवार के बाजारों में टमाटर और प्याज समेत अन्य सब्जियां नियमित बाजारों की तुलना में 100 रुपये प्रति किलोग्राम कम कीमत पर उपलब्ध थीं।’’ 

120 रुपए में 1 किलो मिल रहा आलू

उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में खाद्य पदार्थों की कीमतें और बढ़ेंगी क्योंकि बाढ़ के कारण बलूचिस्तान, सिंध और दक्षिण पंजाब से सब्जियों की आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है। रिजवी ने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में प्याज और टमाटर की कीमत 700 रुपये प्रति किलो के पार हो सकती है। इसी तरह आलू की कीमत 40 रुपये किलो से बढ़कर 120 किलो हो गई है।’’ पता चला है कि सरकार वाघा सीमा के जरिए भारत से प्याज और टमाटर आयात करने के विकल्प पर विचार कर रही है। वर्तमान में लाहौर और पंजाब के अन्य शहरों में तोरखम सीमा के जरिए अफगानिस्तान से टमाटर और प्याज की आपूर्ति हो रही है। 

पाक सरकार भारत से कर सकती है आयात

लाहौर मार्केट कमेटी के सचिव शहजाद चीमा ने कहा कि बाढ़ के कारण शिमला मिर्च जैसी सब्जियों की भी बाजार में कमी हो गई है। चीमा ने कहा कि सरकार भारत से प्याज और टमाटर का आयात कर सकती है। उन्होंने कहा कि ताफ्तान सीमा (बलूचिस्तान) के जरिए ईरान से सब्जियों का आयात करना उतना सुगम नहीं है क्योंकि ईरान सरकार ने आयात और निर्यात पर कर बढ़ा दिया है। 

Latest World News

navratri-2022