ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. 5 से 14 वर्ष के बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण की दर अधिक, WHO की चेतावनी

5 से 14 वर्ष के बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण की दर अधिक, WHO की चेतावनी

उन्होंने कहा कि कुछ स्थानों पर वयस्क और वृद्ध आबादी की तुलना में बच्चों में संक्रमण के मामले दो से तीन गुना अधिक हैं। बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट Omicron का कम्युनिटी स्प्रेड शुरु हो गया है।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 07, 2021 20:26 IST
Kids in 5-14 age group show highest COVID rates, says WHO Europe- India TV Hindi
Image Source : AP WHO के ने कहा कि क्षेत्र में 5 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण की दर सर्वाधिक हो गई है। 

Highlights

  • 53 देशों में पिछले दो महीनों में कोरोना वायरस मामले और मौत की संख्या दोगुनी रही है।
  • कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट के व्यापक प्रसार से खतरा बना हुआ है।
  • Omicron वेरिएंट के 21 देशों में अब तक 432 मामले सामने आए हैं।

जिनेवा: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के यूरोप कार्यालय ने मंगलवार को कहा कि क्षेत्र में पांच से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों में कोरोना वायरस संक्रमण की दर सर्वाधिक हो गई है। डब्ल्यूएचओ यूरोप के क्षेत्रीय निदेशक डॉ हैंस क्लुग ने यह भी दलील दी कि वैक्सीनेशन का आदेश बिल्कुल एक अंतिम उपाय होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से होने वाली मृत्यु दर पहले की तुलना में काफी कम बनी हुई है लेकिन उन्होंने कहा कि मध्य एशिया तक फैले क्षेत्र के 53 देशों में पिछले दो महीनों में कोरोना वायरस मामले और मौत की संख्या दोगुनी रही है। 

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट के व्यापक प्रसार से खतरा बना हुआ है और नये Omicron वेरिएंट के क्षेत्र के 21 देशों में अब तक 432 मामले सामने आए हैं। उन्होंने कोपेनहेगन, डेनमार्क स्थित डब्ल्यूएचओ यूरोप मुख्यालय से संवाददाताओं से कहा, ‘‘डेल्टा स्वरूप अब भी समूचे यूरोप और मध्य एशिया में प्रबल है और हम जानते हैं कि कोविड-19 वैक्सीन रोग की गंभीरता को कम करने और इससे होने वाली मौत के खतरे को कम करने में प्रभावी बने हुए हैं।’’

क्लुग ने क्षेत्र में बच्चों में तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच देशों से बच्चों और स्कूलों को सुरक्षित करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कुछ स्थानों पर वयस्क और वृद्ध आबादी की तुलना में बच्चों में संक्रमण के मामले दो से तीन गुना अधिक हैं। बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट Omicron का कम्युनिटी स्प्रेड शुरु हो गया है। ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावेद ने इसकी पुष्टि की है। 

साजिद जावेद ने संसद में कहा कि कोरोना वायरस के इस वेरिएंट का देश के क्षेत्रों में सामुदायिक स्तर पर प्रसार शुरू (कम्युनिटी स्प्रेड) हो गया है। उन्होंने कहा कि जो लोग संक्रमित मिले हैं उनमें ऐसे भी लोग हैं, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय यात्रा नहीं है, जिसका मतलब है कि यह वायरस अब सामुदायिक स्तर पर फैलने लगा है।

ब्रिटेन में Omicron के प्रसार की रफ्तार थामने के लिए ब्रिटेन ने मंगलवार से नये नियम लागू किये हैं, जिसके तहत भारत समेत विदेशों से यहां आने वाले किसी भी यात्री को अपनी यात्रा से 48 घंटे पहले कोविड-19 की जांच करानी होगी। Omicron के संक्रमण के किसी भी संदिग्ध को पहले से 10 दिनों के लिए खुद से पृथकवास में रहने की आवश्यकता होती है। इनमें वे लोग भी शामिल हैं, जिन्हें कोविड वैक्सीन की पूरी खुराक दी जा चुकी है। 

elections-2022