Monday, April 15, 2024
Advertisement

बड़ी खबर: मणिपुर का सबसे पुराना सशस्त्र समूह UNLF छोड़ देंगे हिंसा, शांति समझौते पर किया हस्ताक्षर

मणिपुर का सबसे पुराना सशस्त्र समूह यूएनएलएफ हिंसा छोड़ने पर राजी हो गया है। समूह ने शांति समझौते पर साइन भी किया है। अमित शाह ने ट्वीट किया है।

Kajal Kumari Edited By: Kajal Kumari @lallkajal
Updated on: November 29, 2023 20:34 IST
Manipur's oldest armed group UNLF- India TV Hindi
Image Source : TWITTER मणिपुर से बड़ी खबर, यूएनएलएफ हिंसा छोड़ने पर राजी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा कि मणिपुर के सबसे पुराने उग्रवादी समूह यूनाइटेड नेशनल लिबरेशन फ्रंट ने केंद्र के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। शाह ने एक एक्स (पूर्व में ट्विटर) पोस्ट में कहा, “एक ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल हुई!!! पूर्वोत्तर में स्थायी शांति स्थापित करने के मोदी सरकार के अथक प्रयासों ने आज नई दिल्ली में यूनाइटेड नेशनल लिबरेशन फ्रंट (UNLF) के साथ एक शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिससे पूर्ति का एक नया अध्याय जुड़ गया है।

गृह मंत्री ने ट्वीट में लिखा, “यूएनएलएफ, मणिपुर का सबसे पुराना घाटी-आधारित सशस्त्र समूह हिंसा छोड़ने और मुख्यधारा में शामिल होने के लिए सहमत हो गया है। गृह मंत्री ने कहा, मैं लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं में उनका स्वागत करता हूं और शांति और प्रगति के पथ पर उनकी यात्रा के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

अमित शाह ने किया ट्वीट

गृह मंत्रालय (MHA द्वारा कई अन्य चरमपंथी संगठनों के साथ यूएनएलएफ पर प्रतिबंध लगाए जाने के कुछ दिनों बाद शांति समझौता हुआ। यह निर्णय तब लिया गया जब केंद्र को लगा कि ये संगठन मणिपुर में सुरक्षा बलों, पुलिस और नागरिकों पर हमलों और हत्याओं के साथ-साथ भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए हानिकारक गतिविधियों में शामिल हैं।

यूएनएलएफ क्या है?

24 नवंबर, 1964 को एरियाबम समरेंद्र सिंह के नेतृत्व में स्थापित, यूएनएलएफ उत्तर-पूर्वी राज्य मणिपुर में सबसे पुराना मैतेई विद्रोही समूह है। 70 और 80 के दशक में, समूह ने मुख्य रूप से लामबंदी और भर्ती पर ध्यान केंद्रित किया। 1990 में, इसने भारत से मणिपुर की 'मुक्ति' के लिए एक सशस्त्र संघर्ष शुरू करने का निर्णय लिया। उसी वर्ष, इसने मणिपुर पीपुल्स आर्मी (MPA) नामक एक सशस्त्र विंग का गठन किया।

ये भी पढ़ें:

पाकिस्तान से वापस आई अंजू, पड़ोसी मुल्क में जाकर कर ली थी दोस्त से शादी और बन गई थी फातिमा

'हम CAA लागू करके रहेंगे, इसे कोई नहीं रोक सकता', कोलकाता की रैली में गरजे अमित शाह

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement