1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. खत्म हुआ इंतजार: 36 दिन बाद सार्वजनिक तौर पर नजर आए तेजस्वी, बताई गायब रहने की वजह

खत्म हुआ इंतजार: 36 दिन बाद सार्वजनिक तौर पर नजर आए तेजस्वी, बताई गायब रहने की वजह

राजद प्रमुख लालू प्रसाद की गैरमौजूदगी में राजद की कमान संभाल रहे उनके छोटे पुत्र एवं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की करारी हार के बाद प्रदेश की राजनीतिक परिदृश्य से गायब थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 04, 2019 16:37 IST
Rashtriya Janata Dal (RJD) leader Tejashwi Yadav with...- India TV
Rashtriya Janata Dal (RJD) leader Tejashwi Yadav with Tej Pratap

पटना: बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव मानसून सत्र के पांचवें दिन बृहस्पतिवार को सदन पहुंचे। यादव लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की करारी हार के बाद से राजनीतिक परिदृश्य से गायब थे। तेजस्वी यादव ने बताया कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान उनके एक पैर में हल्का फ्रैक्चर हो गया था जिसके इलाज के लिए वे दिल्ली में थे। यादव ने कहा कि उनकी पार्टी राजद की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति आगामी 6 जुलाई को पटना में आयोजित होगी जिसमें पार्टी की ओर से कई प्रस्ताव पारित किए जाएंगे।

बिहार विधानसभा के प्रतिपक्ष के नेता के तौर पर उनके इस्तीफे की पेशकश के बारे में पूछे जाने पर तेजस्वी ने कहा कि "आप (मीडिया वाले) जरूर जानते होंगे... आप (मीडिया) अफवाहों पर अपना समय क्यों बर्बाद कर रहे हैं।" यादव से जब यह पूछा गया कि वह इतने दिनों तक कहां थे तब उन्होंने कहा कि वह देश में ही थे और दिल्ली में उनके पैर का इलाज चल रहा था। उन्होंने प्रदेश के विपक्षी महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

राजद प्रमुख लालू प्रसाद की गैरमौजूदगी में राजद की कमान संभाल रहे उनके छोटे पुत्र एवं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की करारी हार के बाद प्रदेश की राजनीतिक परिदृश्य से गायब थे। लालू यादव चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं, हालांकि फिलहाल उनका रांची के अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बिहार में सत्ता में शामिल भाजपा और जदयू तेजस्वी यादव के सदन में अनुपस्थित रहने पर सवाल उठा रही थी। बिहार विधानसभा में गत तीन जुलाई को वर्ष 2019-20 के बजट पर चर्चा के बाद सरकार की ओर से जवाब देते हुए उपमुख्यमंत्री एवं राज्य के वित्तमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि उनके 30 साल के संसदीय करियर में ऐसा पहली बार हुआ कि राज्य के बजट पर बहस के दौरान प्रतिपक्ष के नेता मौजूद नहीं रहे।

बिहार विधानसभा में जदयू के मुख्य सचेतक रत्नेश सदा ने भी प्रतिपक्ष के नेता के सदन से अनुपस्थित रहने पर सवाल उठाया था। बिहार विधानसभा में आज की कार्यवाही शुरू होते ही राजद और कांग्रेस के सदस्यों ने राज्य में सूखे और गिरते भूजल स्तर पर बहस की मांग को लेकर लाए गए अपने ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर पहले चर्चा कराए जाने की मांग को लेकर हंगामा किया। इससे प्रश्नकाल में बाधा उत्पन्न होने पर अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने सदन की कार्यवाही भोजनावकाश पूर्वाहन दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13