ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. CM योगी बोले- कब्रिस्तान में खर्च होने वाला पैसा अब तीर्थस्थलों के विकास में लग रहा है

CM योगी बोले- कब्रिस्तान में खर्च होने वाला पैसा अब तीर्थस्थलों के विकास में लग रहा है

योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने अपराधियों को सत्ता का नहीं बल्कि जेल के दरवाजे खोल दिए हैं। कब्रिस्तान में खर्च होने वाले पैसे से अब तीर्थ स्थलों का विकास कराया जा रहा है। विकास परियोजनाओं को सभी समाज व जिलों तक पहुंचाया जा रहा है।

IANS Reported by: IANS
Published on: December 09, 2021 8:48 IST
yogi adityanath- India TV Hindi
Image Source : PTI CM योगी बोले- कब्रिस्तान में खर्च होने वाला पैसा अब तीर्थस्थलों के विकास में लग रहा है

Highlights

  • सपा सरकार में माफियाओं को प्राप्त था सत्ता का संरक्षण- योगी
  • हमारी सरकार ने अपराधियों को सत्ता का नहीं बल्कि जेल के दरवाजे खोल दिए- योगी

मथुरा: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधा और कहा कि कब्रिस्तान में खर्च होने वाले पैसे से अब तीर्थ स्थलों का विकास कराया जा रहा है। विकास परियोजनाओं को सभी समाज व जिलों तक पहुंचाया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी बुधवार को यहां 201.16 करोड़ की 196 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करने पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को अपने स्वार्थ के लिए बदनाम करने का काम किया। इन्होंने दंगे दिए विकास के नाम पर लूटखसोट कराई। विकास की परिभाषा प्रदेश नहीं परिवार हो गया था। बिजली देने में भेदभाव करते थे। कुछ जिलों को वीआईपी बना दिए गए बाकी 71 जिले टकटकी लगाकर देखते रहते थे। अपने लोगों को लाभान्वित कराने के लिए ऊलजुलूल योजनाएं बनाई जाती थीं, सत्ता का संरक्षण माफियाओं को प्राप्त था।

उन्होंने कहा, दंगों में व्यापारियों के प्रतिष्ठान जलाए जाते थे उन्हें प्रताड़ित किया जाता था झूठे मुकदमे दर्ज कराए जाते थे। हमारी सरकार ने अपराधियों को सत्ता का नहीं बल्कि जेल के दरवाजे खोल दिए हैं। कब्रिस्तान में खर्च होने वाले पैसे से अब तीर्थ स्थलों का विकास कराया जा रहा है। विकास परियोजनाओं को सभी समाज व जिलों तक पहुंचाया जा रहा है। मथुरा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा समेत अन्य विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मथुरा में कहा कि उत्तर प्रदेश में भारत की आत्मा निवास करती है। यह बाबा विश्वनाथ, राम, श्रीकृष्ण, मां गंगा-जमुना की भूमि है। समाजवादी पार्टी को कटघरे में खड़ा करते हुए उन्होंने कहा कि अपने स्वार्थ के लिए इस भूमि को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इन्होंने दंगे दिए विकास के नाम पर लूटखसोट की।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में सबसे पहले दंगा कोसीकला में ही हुआ था। इस दंगे में व्यापारियों के प्रतिष्ठानों को जलाया गया उन्हे प्रताड़ित किया गया, झूठे मुकदमे दर्ज कराए गए। सत्ता के गलियारों में माफियाओं को इस कदर संरक्षण दिया जाता था। उसका उदाहरण जवाहरबाग है। जिसमें एडीशनल एसपी की हत्या कर दी गई। यह सब वैसे ही हो रहा था जैसे कंस का अत्याचार होता था। पहले पेशेवर अपराधी और माफियाओं के लिए प्रदेश के अंदर सत्ता के द्वार खुले होते थे आज हमारी सरकार में अपराधियों के लिए जेल के द्वार खुले हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना प्रबंधन में फ्री वैक्सीन, फ्री उपचार दिया गया। यूपी में अभी तक 17 करोड़ लोगों को फ्री में वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कोई राज्य इतनी बड़ी संख्या में वैक्सीनेशन नहीं कर पाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने फ्री में प्रधानमंत्री अन्न योजना को मार्च तक बढ़ाने का फैसला किया है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि बरसाने में होने वाले रंगउत्सव तक अगर कोरोना खत्म नहीं हुआ तो आगे भी खाद्यान्न दिया जाएगा। राज्य सरकार भी अन्न योजना को 12 दिसम्बर से लागू करने जा रहे हैं जिसका 15 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी में युवाओं की पढ़ाई पर असर पड़ा है। अब हमारी सरकार हर युवा को टैबलेट और स्मार्टफोन इसी महीने देने जा रही है। इसका मतलब वर्क फर्म होम ही नहीं होगा। अब ऑनलाइन एजूकेशन भी होगा। हमारी सरकार आने वाले समय में आनलाइन प्रतियोगी परीक्षा कराने का भी प्रयास करने की तैयारी कर रही है। जिससे युवाओं को इधर-उधर दौड़ लगाने से भी राहत मिलेगी।

उन्होंने सभी को आगाह करते हुए कहा कि चुनावी हलचल शुरू हो चुकी है तो यह कुछ षडयंत्र करने की साजिश कर सकते हैं। जब कोरोना महामारी थी तो यह सब होम आइसोलेशन में थे। अब यह फिर बाहर निकल रहे हैं कुछ गड़बड़ करने की तैयारी कर सकते हैं। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि हमने जो कहा वह किया प्रदेश को दंगा मुक्त किया, भव्य राममंदिर बनाया जा रहा है। यह कांग्रेस, बसपा और सपा नहीं कर सकती थी। पिछली सरकारें तो आतंकियों के मुकदमे वापस लेने में ही वयस्त थी। एक तरफ रामभक्त वाले लोग हैं तो दूसरी तरफ रामभक्तों पर गोली चलाने वाले हैं। एक तरफ किसान ऋण माफी और किसान सम्मान निधि देने वाली सरकार दूसरी तरफ किसानों के पेट में लात मारने वाले लोग हैं।

elections-2022