1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इमरान खान के बाद पाक सेना प्रमुख बाजवा का भारत को शांति संदेश, कही यह बड़ी बात

इमरान खान के बाद पाकिस्तान सेना प्रमुख बाजवा का भारत को शांति संदेश, कही यह बड़ी बात

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा भारत को पाकिस्तान से संबंध बेहतर कर नफा और नुकसान की सीख देने के बाद अब पाकिस्तान सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अतीत को भूलने और आगे बढ़ने की नसीहत दी है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 18, 2021 19:51 IST
Army chief General Qamar Javed Bajwa says it's time for India and Pakistan to bury the past and move- India TV Hindi
Image Source : AP पाकिस्तान सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अतीत को भूलने और आगे बढ़ने की नसीहत दी है। 

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा भारत को पाकिस्तान से संबंध बेहतर कर नफा और नुकसान की सीख देने के बाद अब पाकिस्तान सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अतीत को भूलने और आगे बढ़ने की नसीहत दी है। जनरल बाजवा ने कहा कि यह भारत और पाकिस्तान के लिए अतीत को भूलने और आगे बढ़ने का समय है। उन्होंने कहा कि दोनों पड़ोसी देशों के बीच शांति से दक्षिण और मध्य एशिया में विकास की संभावनाओं को खोलने में मदद मिलेगी। जनरल बाजवा ने यहां इस्लामाबाद सुरक्षा वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि विवादों के कारण क्षेत्रीय शांति और विकास की संभावना अनसुलझे मुद्दों के कारण हमेशा बंधक रही है। 

उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यह समय अतीत को भूलने और आगे बढ़ने का है।’’ गौरतलब है कि भारत ने पिछले महीने कहा था कि वह पाकिस्तान के साथ आतंक, बैर और हिंसा मुक्त माहौल के साथ सामान्य पड़ोसी संबंध की आकांक्षा करता है। भारत ने कहा था कि इसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है कि वह आतंकवाद और शत्रुता मुक्त माहौल तैयार करे। 

जनरल बाजवा ने कहा, ‘‘हमारे पड़ोसी को विशेष रूप से कश्मीर में एक अनुकूल वातावरण बनाना होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इनमें सबसे अहम मुद्दा कश्मीर का है। यह समझना महत्वपूर्ण है कि शांतिपूर्ण तरीकों के माध्यम से कश्मीर विवाद के समाधान के बिना इस क्षेत्र में शांति की कोई भी पहल सफल नहीं हो सकती है।’’ 

जनरल बाजवा के बयान से एक दिन पहले प्रधानमंत्री इमरान खान ने इसी स्थान पर यही बयान दिया था। खान ने बुधवार को कहा था कि उनके मुल्क के साथ शांति रखने पर भारत को आर्थिक लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा था कि इससे भारत को पाकिस्तानी भू-भाग के रास्ते संसाधन बहुल मध्य एशिया में सीधे पहुंचने में मदद मिलेगी। 

उन्होंने कहा था, ‘‘भारत को पहला कदम उठाना होगा। वे जब तक ऐसा नहीं करेंगे, हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं। ’’ जनरल बाजवा ने कहा कि पूर्व और पश्चिम एशिया के बीच संपर्क सुनिश्चित करके ‘‘दक्षिण और मध्य एशिया की क्षमता को खोलने के लिए’’ भारत और पाकिस्तान के बीच शांति का माहौल होना बहुत आवश्यक है।

ये भी पढ़ें

Click Mania
uttar pradesh chunav manch 2021