1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. जेल की सजा काट रहे पूर्व PM नवाज शरीफ को सरकार ने अस्पताल में भर्ती कराया

जेल की सजा काट रहे पूर्व PM नवाज शरीफ को सरकार ने अस्पताल में भर्ती कराया

भ्रष्टाचार के आरोप में 10 साल कैद की सजा काट रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पाकिस्तान की सरकार ने रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 29, 2018 18:42 IST
Nawaz Sharif to be shifted to hospital as his health condition deteriorates | AP- India TV
Nawaz Sharif to be shifted to hospital as his health condition deteriorates | AP

लाहौर: भ्रष्टाचार के आरोप में 10 साल कैद की सजा काट रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पाकिस्तान की सरकार ने रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया है। शरीफ पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे हैं और उनकी ईसीजी एवं ब्लड रिपोर्ट को देखते हुए उन्हें समुचित इलाज देने के लिए अस्पताल में भर्ती कराने का फैसला किया गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान की कार्यवाहक सरकार शरीफ को अडियाला जेल से इस्लामाबाद के पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भर्ती कराया है।

यह फैसला पंजाब सरकार ने लिया क्योंकि अडियाला जेल उसके प्रशासनिक नियंत्रण में है। डॉक्टरों की एक टीम ने सिफारिश की थी कि शरीफ को उचित चिकित्सा एवं देखभाल की जरुरत है। पंजाब के गृहमंत्री शौकत जावेद ने कहा, ‘शरीफ को इस्लामाबाद के पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में भर्ती कराया जाएगा । वहां इन हाईप्रोफाइल कैदी के लिए तैयारी कर ली गई है।’ एक अधिकारी ने कहा था कि जेल में बंद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को हृदय संबंधी परेशानियों की वजह से तत्काल अडियाला जेल से अस्पताल के ICU में भर्ती करने की जरुरत है।

शरीफ (68) लंदन में उनके परिवार द्वारा लक्जरी अपार्टमेंटों की खरीद को लेकर भ्रष्टाचार के एक मामले में 10 साल की कैद की सजा काट रहे हैं। वह 13 जुलाई से रावलपिंडी की अडियाल जेल में हैं। पिछले हफ्ते खबर आयी थी कि शरीफ के गुर्दे ने काम करना बंद कर दिया है और डॉक्टरों ने सलाह दी कि उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाने की जरुरत है। शरीफ की 2016 में ओपन हार्ट सर्जरी हुई थी और वह हाई ब्लड प्रेशर एवं डायबिटिज से ग्रस्त हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X