1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. पाकिस्तान: सहपाठी की पिटाई के बाद मौत से गुस्साए छात्रों ने स्कूल में लगाई आग

पाकिस्तान: सहपाठी की पिटाई के बाद मौत से गुस्साए छात्रों ने स्कूल में लगाई आग

पाकिस्तान में अपने सहपाठी की कथित पिटाई से हुई मौत के बाद गुस्साए छात्रों द्वारा अपने ही स्कूल में आगजनी करने की खबरें सामने आई हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: September 08, 2019 8:57 IST
Students in Pakistan attempt to burn school where Hunain Bilal was beaten to death by teacher | Face- India TV Hindi
Students in Pakistan attempt to burn school where Hunain Bilal was beaten to death by teacher | Facebook

लाहौर: पाकिस्तान में अपने सहपाठी की कथित पिटाई से हुई मौत के बाद गुस्साए छात्रों द्वारा अपने ही स्कूल में आगजनी करने की खबरें सामने आई हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अपने सहपाठी हुनैन बिलाल की कथित तौर पर शिक्षक द्वारा पीटे जाने के बाद हुई मौत से गुस्साए पाकिस्तान के एक निजी स्कूल के छात्रों ने अपने स्कूल को ही आग के हवाले करने की कोशिश की। बिलाल के सहपाठी शनिवार सुबह विद्यालय में पेट्रोल की बोतलें लेकर घुसे और स्कूल की बिल्डिंग में आग लगा दी। 

2 कमरों को ही आग लगा पाए छात्र

हालांकि इस घटना में राहत की बात यह रही कि कोई बड़ा नुकसान नहीं हो पाया और वे सिर्फ 2 कमरों में ही आग लगाने में कामयाब हो पाए। इस दौरान विद्यालय परिसर में पुलिस अधिकारी पहुंच गए और घटना के दौरान उनमें से कई बच्चों को गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले की आग पूरे विद्यालय की इमारत को अपनी चपेट में लेती अग्निशमन कर्मचारी मौके पर पुहंचे और आग पर काबू पा लिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक छात्र की मौत के बाद छात्रों मे यह गुस्सा भड़का था।

असाइनमेंट पूरा न करने पर पिटाई!
शहर के गुलशन-ए-रावी क्षेत्र में गुरुवार को एक निजी स्कूल के एक शिक्षक ने असाइनमेंट पूरा करने में विफल रहे अपने एक छात्र की कथित तौर पर पिटाई कर दी थी। मृतक के रिश्तेदार के अनुसार, 16 वर्षीय हुनैन 10वीं कक्षा में पढ़ता था। कक्षा में असाइनमेंट पूरा किए बिना आने के चलते उसके शिक्षक कामरान ने उसकी पिटाई की। उसके रिश्तेदार ने दावा किया कि शिक्षक ने हुनैन को पीछे और पेट पर लात मारी, जिससे वह बेहोश हो गया। 

अस्पताल पहुंचाने में देरी बनी वजह?
बताते हैं कि स्कूल प्रशासन ने किशोर को अस्पताल ले जाने में देरी की, जिसके चलते इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बाद में घर वालों को इस बात की जानकारी दी गई। परिजनों ने अपने बेटे के लिए न्याय मांगा है। पुलिस के मुताबिक, शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच की जा रही है। पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री मुराद रास ने घटना का संज्ञान लेते हुए लाहौर में स्कूली शिक्षा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) तारिक रफीक को मामले से संबंधित एक रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X