1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. कार ड्राइविंग के बाद अब सऊदी अरब में महिलाओं को इस बात की भी इजाजत!

कार ड्राइविंग के बाद अब सऊदी अरब में महिलाओं को इस बात की भी इजाजत!

हाल की घोषणाओं के बावजूद, महिलाओं को अभी भी इस देश में गंभीर प्रतिबंधों का सामना करना पड़ता है, जहां सुन्नी इस्लाम का एक सख्त रूप, वहाबीवाद पर अमल होता है...

IANS IANS
Published on: October 30, 2017 16:18 IST
Representational Image | AP Photo- India TV Hindi
Representational Image | AP Photo

रियाद: राजकुमार मोहम्मद बिन सलमान के सऊदी समाज के आधुनिकीकरण और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के हिस्से के रूप में सऊदी अरब की महिलाओं को अगले वर्ष से स्टेडियम में खेल कार्यक्रमों में उपस्थित हाने की अनुमति होगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिलाएं अब 3 बड़े शहरों रियाद, जेद्दा और दमाम के स्टेडियमों में जा सकेंगी। यह सऊदी महिलाओं को अधिक स्वतंत्रता देने की दिशा में एक और कदम है जोकि सख्त लिंग अलगाव के नियमों का सामना करती हैं। इससे पहले सऊदी अरब में महिलाओं के गाड़ी चलाने पर प्रतिबंध को हटाया गया था।

सऊदी अरब के खेल प्राधिकरण ने कहा कि 3 स्टेडियमों में तैयारी शुरू हो जाएगी ताकि वे 2018 के प्रारंभ से महिलाओं के आने के लिए तैयार रहे। प्राधिकरण ने कहा कि परिवर्तनों के हिस्से के रूप में स्टेडियम के अंदर रेस्तरां, कैफे और मॉनिटर स्क्रीन स्थापित की जाएंगी। यह सुधार सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन लाने के लिए 32 वर्षीय राजकुमार मोहम्मद द्वारा घोषित विजन 2030 नामक एक विस्तृत योजना का भाग है। पिछले महीने एक शाही आज्ञप्ति में कहा गया कि अगली जून से महिलाओं को गाड़ी चलाने की अनुमती होगी। देश में कॉन्सर्ट एक बार फिर से शुरू हो गए हैं और कुछ समय में सिनेमा के फिर से लौटने की भी संभावना है। 

पिछले हफ्ते राजकुमार ने कहा कि नरमपंथी इस्लाम की वापसी देश के आधुनिकीकरण की उनकी योजनाओं का महत्वपूर्ण हिस्सा है। हाल की घोषणाओं के बावजूद, महिलाओं को अभी भी इस देश में गंभीर प्रतिबंधों का सामना करना पड़ता है, जहां सुन्नी इस्लाम का एक सख्त रूप, वहाबीवाद पर अमल होता है। महिलाओं को सख्त ड्रेस कोड का पालन करना पड़ता है और किसी अपरिचित पुरुष से उनका कोई संबंध नहीं हो सकता। यदि वह यात्रा करना चाहती हैं या स्वास्थ्य सेवा का उपयोग करना चाहती है तो उन्हें किसी पुरुष अभिभावक के साथ जाना पड़ता है या उसकी लिखित अनुमति प्राप्त करनी पड़ती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment