Birtish PM: ऋषि सुनक को मिला अमेरिका स्थित भारतीय संगठन का साथ

Birtish PM: 'रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन' (आरएचसी) ने कहा, ''ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री के रूप में सुनक को समर्थन देते हैं, क्योंकि वह उनके मूल्यों एवं सिद्धांतों का सम्मान करते हैं।''

Shashi Rai Edited By: Shashi Rai @km_shashi
Published on: August 09, 2022 10:25 IST
RISHI SUNAK- India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO RISHI SUNAK

Highlights

  • ऋषि सुनक को मिला अमेरिका स्थित भारतीय संगठन का साथ
  • 'रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन' का ऋषि सुनक को समर्थन
  • वह उनके मूल्यों एवं सिद्धांतों का सम्मान करते हैं: RHC

Birtish PM: अमेरिका स्थित एक भारतीय संगठन ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल भारतीय मूल के ऋषि सुनक को सोमवार को अपना समर्थन दिया। ब्रिटेन में कंजर्वेटिव पार्टी का नया नेता चुनने की दौड़ में बचे अंतिम दो उम्मीदवार ऋषि सुनक और लिज़ ट्रस ने देश में महंगाई से निपटने के अपने प्रस्तावों को लेकर सोमवार को बहस की थी। कंजर्वेटिव पार्टी का नया नेता अगले महीने की शुरुआत में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का पद भी संभालेगा। इस चुनाव में जीत दर्ज करने में कामयाब रहने पर सुनक ब्रिटेन के भारतीय मूल के पहले प्रधानमंत्री बन सकते हैं। ‘रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन’ (आरएचसी) ने कहा, ''ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री के रूप में सुनक को समर्थन देते हैं, क्योंकि वह उनके मूल्यों एवं सिद्धांतों का सम्मान करते हैं।'' 

आरएचसी ने क्या कहा? 

उन्होंने कहा, ''हम सुनक का समर्थन केवल इसलिए नहीं कर रहे क्योंकि वह हिंदू हैं, बल्कि इसलिए भी कर रहे हैं क्योंकि ‘रिपब्लिकन हिंदू कॉलिशन’ की तरह सुनक हमारे मूल मूल्यों एवं संस्थापक सिद्धांतों का पूरी तरह सम्मान करते हैं, जिसमें सीमित शक्तियों वाली सरकार के साथ मुक्त उद्यम, राजकोषीय अनुशासन, पारिवारिक मूल्य और दृढ़ विदेश नीति शामिल है।'' आरएचसी की स्थापना अमेरिका में 2015 में हिंदू-अमेरिकी समुदाय और रिपब्लिकन नीति निर्माताओं एवं नेताओं के बीच एक पुल कायम करने के मकसद से की गई थी। संगठन के संस्थापक, अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी शलभ कुमार ने कहा, ''ऋषि सुनक को मेरा और आरएचसी का पूरा समर्थन है। ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री के तौर पर सुनक बेहद सफल रहेंगे। सुनक केवल ब्रिटेन के लिए ही नहीं बल्कि उसके रणनीतिक सहयोगी अमेरिका और भारत के लिए भी बेहतरीन विकल्प साबित होंगे।''

सुनक नियमित रूप से मंदिर में जाते हैं

 उन्होंने कहा, ''हम सभी कंजर्वेटिव के साथ-साथ दुनियाभर में मौजूद एक अरब हिंदुओं को प्रोत्साहित करते हैं कि वे ब्रिटिश एनईसी नियमों का पालन करते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के पद के लिए ऋषि की उम्मीदवारी को पूर्ण समर्थन प्रदान करने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास करें।'' सुनक नियमित रूप से मंदिर में जाते हैं। उनका जन्म साउथेम्प्टन में हुआ था और वह नवंबर 2020 में ‘11 डाउनिंग स्ट्रीट’ के अपने कार्यालय-आवास के बाहर दीपावली के दीये जलाने वाले पहले वित्त मंत्री थे। उनकी बेटियां अनुष्का और कृष्णा भी भारतीय संस्कृति से पूरी तरह राबता रखती हैं। सुनक की पत्नी अक्षता ‘इन्फोसिस’ के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति की बेटी हैं। 

Latest World News