अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन ने कहा, हम चीन के साथ संघर्ष नहीं बल्कि प्रतिस्पर्धा चाहते हैं

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन ने G20 शिखर सम्मेलन के इतर चीनी राष्ट्राध्यक्ष शी जिनपिंग के साथ अपनी संभावित मुलाकात से पहले बड़ा बयान दिया है। बायडेन की बातों से लगता है कि वह चीन को कोई ढील तो नहीं देंगे, लेकिन बहुत ज्यादा अड़ियल रवैया भी नहीं अपनाएंगे।

Vineet Kumar Singh Edited By: Vineet Kumar Singh @JournoVineet
Published on: November 10, 2022 10:07 IST
Joe Biden News, Joe Biden China, Joe Biden United States, Joe Biden Xi Jinping- India TV Hindi
Image Source : AP FILE अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग।

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन ने कहा है कि वह चीन के साथ प्रतिस्पर्धा (Competition) चाहते हैं, संघर्ष (Conflict) नहीं। इस महीने के अंत में इंडोनेशिया की राजधानी बाली में G-20 शिखर सम्मेलन से इतर बायडेन के अपने चीनी समकक्ष शी जिनपिंग से मुलाकात करने की संभावना है। बायडेन ने बुधवार को कहा कि बैठक में राष्ट्रीय हितों और ‘रेड लाइन’ पर चर्चा होने की उम्मीद है। बता दें कि पिछले कुछ समय से अमेरिका और चीन के रिश्तों में खटास बढ़ती गई है।

‘मैं प्रतिस्पर्धा चाहता हूं, न कि संघर्ष’

बायडेन ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मैंने उनसे कई बार मुलाकात की है और कहा है कि मैं प्रतिस्पर्धा चाहता हूं, न कि संघर्ष। इसलिए बातचीत के दौरान मैं इस पर चर्चा करना चाहूंगा कि हमारी ‘रेड लाइन’ यानी कि सीमाएं क्या हैं। हम दोनों अपने-अपने देशों के हितों के बारे में समझेंगे और साथ ही यह सुनिश्चित करेंगे कि एक-दूसरे के साथ कोई टकराव ना हो। मुझे उम्मीद है कि हम निष्पक्ष व्यापार और क्षेत्र के अन्य देशों के साथ संबंधों सहित कई मुद्दों पर बात करेंगे।’

‘देखते हैं कि शी क्या फैसला करते हैं’
बायडेन ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि उन्हें नहीं लगता कि चीन, रूस या उसके राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बहुत ज्यादा इज्जत करता है। उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि वे एक-दूसरे को एक स्पेशल अलायंस के तौर पर देख रहे हैं। अभी यह देखना बाकी है कि शी क्या फैसला करते हैं। क्या वे अपने शुरुआती फैसले का समर्थन करते हैं या वह चाहते हैं कि विश्व में चीन की सेना सबसे विशाल और अर्थव्यवस्था सबसे मजबूत हो। उन्हें अभी लंबा सफर तय करना है।’ बायडेन ने कहा कि परमाणु हथियार और उससे जुड़े विषयों पर भी चर्चा होगी।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन