1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. ED ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में महबूबा मुफ्ती के भाई को तलब किया

ED ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में महबूबा मुफ्ती के भाई को तलब किया

तस्सदुक हुसैन मुफ्ती पर आरोप है कि मुख्यमंत्री के तौर पर महबूबा के कार्यकाल के दौरान उनके अकाउंट में कई कश्मीरी बिल्डर्स से फंड ट्रांसफर हुआ।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 17, 2021 22:19 IST
ED, ED Mehbooba Mufti, Mehbooba Mufti, Mehbooba Mufti PMLA Case, Tassaduq Hussain Mufti- India TV Hindi
Image Source : PTI ED ने जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के भाई तस्सदुक हुसैन मुफ्ती को पूछताछ के लिए तलब किया है।

Highlights

  • तस्सदुक हुसैन मुफ्ती को गुरुवार को नई दिल्ली में मामले के जांच अधिकारी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है।
  • जांच कश्मीर के कुछ व्यवसायों से उनके खातों में कथित रूप से प्राप्त कुछ धन से संबंधित है।
  • इस पर प्रतिक्रिया देते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि यह उनके खिलाफ राजनीतिक प्रतिशोध है।

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के भाई तस्सदुक हुसैन मुफ्ती को पूछताछ के लिए तलब किया है। अधिकारियों ने बुधवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि महबूबा के मंत्रिमंडल में पर्यटन मंत्री रहे तस्सदुक हुसैन मुफ्ती को गुरुवार को नई दिल्ली में मामले के जांच अधिकारी के सामने पेश होने और धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के प्रावधानों के तहत अपना बयान दर्ज कराने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि जांच कश्मीर के कुछ व्यवसायों से उनके खातों में कथित रूप से प्राप्त कुछ धन से संबंधित है।

तस्सदुक हुसैन मुफ्ती पर आरोप है कि मुख्यमंत्री के तौर पर महबूबा के कार्यकाल के दौरान उनके अकाउंट में कई कश्मीरी बिल्डर्स से फंड ट्रांसफर हुआ। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि यह उनके खिलाफ राजनीतिक प्रतिशोध है। उन्होंने कहा, 'जब भी मैं किसी भी गलत काम के खिलाफ आवाज उठाती हूं, कोई न कोई समन मेरे परिवार के किसी सदस्य का इंतजार कर रहा होता है। इस बार मेरे भाई की बारी है।' एक अन्य धनशोधन मामले में ईडी द्वारा पूछताछ का सामना करने वाली महबूबा मुफ्ती ने कहा कि वह सोमवार को श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके में निर्दोष नागरिकों की हत्या का विरोध कर रही हैं।

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि सेना और पुलिस द्वारा सोमवार को शहर के बाहरी इलाके में 4 लोगों की हत्या कर दी गई। उन्होंने मारे गए लोगों को 'आतंकवादी' और 'आतंकवादियों को पनाह देने वाला' बताया। हालांकि, इन लोगों के परिवारों ने दावों का विरोध करते हुए कहा है कि वे निर्दोष थे। मामले में पुलिस के विरोधाभासी बयानों ने भी महबूबा मुफ्ती सहित राजनीतिक नेताओं को इसके खिलाफ विरोध जाहिर करने के लिए प्रेरित किया है। (भाषा)

bigg boss 15