1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. मध्य प्रदेश: सियासी हलचल हुई और तेज, नरेंद्र तोमर के घर पहुंचे सिंधिया, कमलनाथ के निवास पर पहंचे जीतू पटवारी

मध्य प्रदेश: सियासी हलचल हुई और तेज, नरेंद्र तोमर के घर पहुंचे सिंधिया, कमलनाथ के निवास पर पहंचे जीतू पटवारी

न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता की पीठ ने कहा कि राज्य में राजनीतिक अनिश्चितता के कारण फ्लोर टेस्ट करवाना जरूरी हो गया है। पीठ ने कर्नाटक डीजीपी को भी 16 बागी विधायकों को सुरक्षा देने के आदेश दिए, जो हो सकता है कि फ्लोर टेस्ट में भाग लें।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 19, 2020 19:37 IST
madhya pradesh- India TV Hindi
Image Source : ANI नरेंद्र तोमर के घर पहुंचे सिंधिया, कमलनाथ के निवास पर पहंचे जीतू पटवारी

भोपाल. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मध्य प्रदेश में सियासी हलचल और तेज हो गई है। जैसे ही सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश में कल फ्लोर टेस्ट का आदेश दिया, उसके तुरंत बाद न सिर्फ सियासी प्रतिक्रयाओं का दौर शुरू हो गया बल्कि दोनों खेमों में आगे की रणनीति का दौर भी शुरू हो गया। एक तरफ जहां कांग्रेस नेता जीतू पटवारी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीएम कमलनाथ के निवास पर पहुंचे तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी राजधानी दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात करने पहुंचे। 

भोपाल में मीडिया से बातचीत में जीतू पटवारी ने कहा कि हम फ्लोर टेस्ट के लिए पहले भी तैयार थे आज भी तैयार हैं और हम कल फ्लोर टेस्ट में  पास होंगे'। आपको बता दें कि मध्यप्रदेश के मौजूदा राजनीतिक संकट के बीच बड़े घटनाक्रम के तहत, सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को विधानसभा में 20 मार्च यानी शुक्रवार को शक्ति परीक्षण (फ्लोर टेस्ट) करवाने का आदेश दिया और साथ ही कहा कि यह प्रक्रिया शाम पांच बजे से पहले पूरी हो जानी चाहिए। कोर्ट के अनुसार, फ्लोर टेस्ट हाथ उठाए जाने (शो ऑफ हैंड) के साथ पूरी होगी। सरकार के पक्ष में जितने हाथ उठाए जाएंगे, उन गिनती होगी और उसी आधार पर फैसला लिया जाएगा।

न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता की पीठ ने कहा कि राज्य में राजनीतिक अनिश्चितता के कारण फ्लोर टेस्ट करवाना जरूरी हो गया है। पीठ ने कर्नाटक डीजीपी को भी 16 बागी विधायकों को सुरक्षा देने के आदेश दिए, जो हो सकता है कि फ्लोर टेस्ट में भाग लें। शीर्ष अदालत ने कहा, "मतदान हाथ उठाने के साथ होगा। इसकी वीडियोग्राफी करवाई जाएगी और अगर संभव हो तो लाइव प्रसारण किया जाएगा।"

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X