1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. उत्तर प्रदेश पुलिस ने किया ऐसा काम, जानकार करने लगेंगे तारीफ

उत्तर प्रदेश पुलिस ने किया ऐसा काम, जानकार करने लगेंगे तारीफ

कंकरखेरा पुलिस स्टेशन के एसएचओ (स्टेशन हाउस ऑफिसर) सागर को जब बच्चे की दुर्दशा के बारे में पता चला, तो उन्होंने उसे गोद लेने का फैसला कर लिया। आज पुलिस स्टेशन के सभी स्टाफ मिलकर अनमोल का ख्याल रख रहे हैं, उसकी देखभाल कर रहे हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 16, 2021 12:04 IST
meerut police adopts 14 year old boy anmol उत्तर प्रदेश पुलिस ने किया ऐसा काम, जानकार करने लगेंगे ता- India TV Hindi
Image Source : HTTPS://TWITTER.COM/UPPOLICE उत्तर प्रदेश पुलिस ने किया ऐसा काम, जानकार करने लगेंगे तारीफ

मेरठ. पुलिस की आए दिन लोगों के सामने ऐसी तस्वीरें आती हैं जिससे जनता और पुलिस के बीच का फासला बढ़ता ही जा रही है। लेकिन पुलिस कई बार ऐसे काम भी करती है जो लोगों के दिल छू लेते हैं। उत्तर प्रदेश के मेरठ से पुलिस की मानवीय चेहरा सामने आया है। यहां एक पुलिस स्टेशन ने 14 साल के एक ऐसे लड़के को गोद लिया है, जिसके घर पर कोई नहीं है। इस 14 साल के किशोर का नाम अनमोल है। दो साल पहले एक सड़क दुर्घटना में अनमोल के पिता की मौत हो गई है और उसकी मां इस वक्त एक मेंटल हॉस्पिटल में है।

पढ़ें- PM ने रखी महाराजा सुहेलदेव स्मारक की आधारशिला, बोले- आज का भारत पुरानी गलतियां सुधार रहा है

पढ़ें- ठाकरे सरकार में मंत्री संजय राठौड़ ने दिया इस्तीफा, बीजेपी नेता का दावा

कंकरखेरा पुलिस स्टेशन के एसएचओ (स्टेशन हाउस ऑफिसर) सागर को जब बच्चे की दुर्दशा के बारे में पता चला, तो उन्होंने उसे गोद लेने का फैसला कर लिया। आज पुलिस स्टेशन के सभी स्टाफ मिलकर अनमोल का ख्याल रख रहे हैं, उसकी देखभाल कर रहे हैं। एसएचओ ने कहा, "अनमोल पढ़ना चाहता है, जिंदगी में कुछ हासिल करना चाहता है। मैंने शहर के कुछ विद्यालयों में उसके एडमिशन के बारे में बात की है और अब वह जल्द ही स्कूल जाने लगेगा। वह अपना अधिकतर समय हमारे साथ गुजारता है। हम मिलकर उसकी देखरेख कर रहे हैं।"

पढ़ें- उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के नेता की गोली मारकर हत्या

ओड़िशा पुलिस ने भी दिखाई दरियादिली
ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में एक पुलिस कर्मी अपने वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रशंसा का पात्र बना जब उसने शराब के नशे में कार चला रहे एक व्यक्ति को रोक कर वाहन में बैठे उसके तीन नन्हें बच्चों को खुद घर तक छोड़ा। पुलिस ने बताया कि कार चालक को गिरफ्तार कर उसके ड्राइविंग लाइसेंस को निलंबित कर दिया गया है।

पढ़ें- राकेश टिकैत को पसंद नहीं आया कांग्रेस नेता का शराब वाला बयान, कही बड़ी बात

जिला पुलिस अधीक्षक मधुकर संदीप संपद ने बताया कि केंद्रपाड़ा शहर में पुराने बस स्टैंड चौक के भीड़भाड़ वाले इलाके के पास गलत तरीके से कार चलाने पर हवलदार सोरेन ने वाहन को रोका और पाया कि कार चलाने वाला व्यक्ति शराब के नशे में धुत है। इसके अलावा हवलदार ने देखा कि कार की पिछली सीट पर तीन से सात वर्ष की आयु के तीन बच्चे बैठे थे, जिनमें से दो लड़के और एक लड़की थी। अधिकारी ने कहा कि बच्चे घबराए हुए थे। उन्होंने कहा कि वाहन चला रहा व्यक्ति बच्चों का पिता था। 

पढ़ें- Ghazipur Border: मास्टर बन टिकैत ने ली क्लास, बच्चों को पढ़ाया और पूछे कई सवाल, ये काम करने को कहा

संपद ने ट्वीट किया, “मानवता के नाते हवलदार ने खुद गाड़ी चलाकर बच्चों को घर तक छोड़ा।” सोरेन ने कहा कि इसके लिए बच्चों की मां ने उसे धन्यवाद दिया। संपद ने कहा कि उन्होंने सोरेन को पुरस्कृत करने के लिए उसके नाम का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि घटना शुक्रवार रात की है। (Input- IANS & Bhasha)

पढ़ें- तेज रफ्तार का कहर! हाईवे पर टकराईं पांच गाड़ियां, 5 की मौत

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X