Friday, June 21, 2024
Advertisement

सुंदर पिचाई का वादा- गूगल का नेक्स्ट AI चैटबॉट गणित और रीजनिंग के सवाल भी करेगा सॉल्व

गूगल बहुत जल्द अपना एक नया AI टूल जारी कर सकता है। गूगल ने उन रिपोर्ट्स का खंडन किया है जिसमें बताया गया था गूगल बार्ड नामक अपने एआई चैटबॉट को बेहतर बनाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले ओपनएआई के चैटजीपीटी की नकल कर रहा है।

Edited By: Gaurav Tiwari
Published on: April 01, 2023 16:03 IST
Google, Google AI Chatbot, CEO Sundar Pichai, Open AI, AI ChatGPT, tech News, Tech News in Hindi- India TV Hindi
Image Source : फाइल फोटो कंपनी के सीईओ ने कहा कि नेक्स्ट एआई मॉडल पहले से कई गुना बेहतर होगा।

सैन फ्रांसिस्को:  अल्फाबेट नामक बार्ड अपने चैटजीपीटी प्रतिद्वंद्वी के बारे में आलोचना का सामना करने के बाद और गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा है कि कंपनी जल्द ही अधिक सक्षम एआई मॉडल जारी करेगी। बार्ड को 21 मार्च को जनता के लिए जारी किया गया था, लेकिन ओपनएआई के चैटजीपीटी और माइक्रोसॉफ्ट के बिंग चैटबॉट की तरह यह लोगों का ध्यान अपनी तरफ खीचने में पूरी तरह से विफल रहा था।

पिचाई ने द न्यूयॉर्क टाइम्स हार्ड फोर्क पॉडकास्ट के दौरान कहा, "हमारे पास स्पष्ट रूप से अधिक सक्षम मॉडल हैं। बहुत जल्द, हम बार्ड को अपने कुछ अधिक सक्षम पाथवेज लैंग्वेज मॉडल (पीएलएम) मॉडल में अपग्रेड करेंगे, जो अधिक क्षमताएं लाएगा, रीजनिंग, कोडिंग में हो, यह गणित के प्रश्नों का बेहतर उत्तर दे सकता है।"

पिचाई ने कही ये बात

पिचाई ने कहा, "तो आप अगले सप्ताह के दौरान प्रगति देखेंगे।" पिचाई ने कहा कि बार्ड की सीमित क्षमताओं का कारण गूगल के भीतर सावधानी की भावना थी। रिपोर्ट में उनके हवाले से कहा गया, "मेरे लिए, इससे पहले कि हम पूरी तरह से यह सुनिश्चित कर सकें कि हम इसे अच्छी तरह से संभाल सकते हैं, अधिक सक्षम मॉडल नहीं रखना महत्वपूर्ण था।"

गूगल के ऑफीसर्स से हो रही बात

पिचाई ने पुष्टि की कि वह काम के बारे में गूगल के सह-संस्थापक लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन के साथ बात कर रहे हैं। उन्होंने यह भी चिंता जताई कि एआई का विकास वर्तमान में बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है और 'शायद समाज के लिए खतरा बन गया है।' पिचाई ने कहा, "इस पर बहुत बहस की जरूरत है, कोई भी सभी जवाब नहीं जानता है।"

गूगल ने उन रिपोर्ट्स का खंडन किया है जिसमें बताया गया था गूगल बार्ड नामक अपने एआई चैटबॉट को प्रशिक्षित करने के लिए माइक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले ओपनएआई के चैटजीपीटी की नकल कर रहा है। सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल के ब्रेन एआई ग्रुप के सॉफ्टवेयर इंजीनियर डीपमाइंड के कर्मचारियों के साथ काम कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें- आज से सस्ते हो जाएंगे स्मार्टफोन और टीवी, लागू हो रहा है केंद्र सरकार का नया नियम

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Tech News News in Hindi के लिए क्लिक करें टेक सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement