1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 10,000 से अधिक गिरफ्तार, पुलिस ने दी जानकारी

कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 10,000 से अधिक गिरफ्तार, पुलिस ने दी जानकारी

श्रीलंका में कर्फ्यू का उल्लंघन करने के आरोप में 10,000 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। कोरोनोवायरस महामारी के कारण देशभर में 20 मार्च से कर्फ्यू लगा हुआ है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 03, 2020 18:26 IST
Coronavirus: More than 10,000 arrested for violating curfew in Sri Lanka- India TV Hindi
Image Source : Coronavirus: More than 10,000 arrested for violating curfew in Sri Lanka

कोलंबो | श्रीलंका में कर्फ्यू का उल्लंघन करने के आरोप में 10,000 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। कोरोनोवायरस महामारी के कारण देशभर में 20 मार्च से कर्फ्यू लगा हुआ है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, एक बयान में पुलिस ने कहा कि इसमें पिछले 24 घंटों के भीतर सड़कों पर घूमने, सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने, सड़कों पर वाहन से यात्रा करने, रेस्तरां खुले रखने, सड़कों पर अनियंत्रित तरीके से व्यवहार करने, व्यापार करने पर गिरफ्तार 500 से अधिक लोग भी शामिल हैं।

2,087 से अधिक वाहनों को भी जब्त कर लिया गया और गिरफ्तार किए गए सभी लोगों को आने वाले दिनों में स्थानीय अदालतों में पेश किया जाएगा। श्रीलंका ने 20 मार्च को कर्फ्यू लगा दिया था, जिसे पिछले सप्ताह कुछ घंटों के लिए अलग-अलग जिलों में लोगों को आवश्यक वस्तुओं का फिर भंडारण करने देने के लिए हटा दिया गया था।

राजधानी कोलंबो, गम्पाहा और कालूतरा , बाहरी इलाके में, कैंडी और द्वीप के उत्तर में, कर्फ्यू 24 मार्च से अनिश्चित समय के लिए लगाया गया है, क्योंकि इन क्षेत्रों को वायरस से सबसे ज्यादा खतरे वाले क्षेत्र के रूप में घोषित किया गया है। श्रीलंका में कोरोना के 151 संक्रमित रोगियों का पता चला है, जिनमें से 22 को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, जबकि 125 चिकित्सा निगरानी में हैं। देश में फिलहाल कोरोना से मरने वालों की संख्या चार है। 10,000 से अधिक अपने घरों में और क्वारंटाइन केंद्रों में आइसोलेशन में हैं।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X