Monday, April 22, 2024
Advertisement

खनौरी बॉर्डर पर मारे गए किसान के परिवार को 1 करोड़ का मुआवजा, पंजाब सरकार का ऐलान

किसान आंदोलन के दौरान खनौरी बॉर्डर पर मौत के शिकार हुए किसान शुभकरण सिंह के परिवार को पंजाब सरकार 1 करोड़ का मुआवजा देगी।

Reported By : Puneet Pareenja Edited By : Malaika Imam Updated on: February 23, 2024 10:37 IST
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान- India TV Hindi
Image Source : PTI पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान

किसान आंदोलन के दौरान खनौरी बॉर्डर पर मौत के शिकार हुए किसान शुभकरण सिंह को लेकर पंजाब सरकार ने बड़ा ऐलान किया है। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मारे गए शुभकरण सिंह के परिवार को 1 करोड़ की आर्थिक मदद की घोषणा की। इसके अलावा शुभकरण सिंह की छोटी बहन को सरकारी नौकरी दी जाएगी। सीएम भगवंत मान ने 'एक्स' पर पोस्ट कर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि पंजाब और हरियाणा के बीच स्थित शंभु और खनौरी बॉर्डर पर बुधवार को उस वक्त आफरा तफरी मच गई है जब किसान आंदोलन में आए 21 वर्षीय युवा किसान शुभकरण सिंह की मौत हो गई। मृतक दो बहनों का इकलौता भाई था। शुभकरण सिंह की मौत के बाद किसानों ने दिल्ली कूच का प्लान दो दिन के लिए टाल दिया।

युवा किसान की मौत के बाद SKM

वहीं, संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने युवा किसान की "हत्या" को लेकर गुरुवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृहमंत्री अनिल विज के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की और अगले सप्ताह ट्रैक्टर मार्च निकालने की घोषणा की। एसकेएम ने घोषणा की कि किसान इस मौत पर शोक व्यक्त करने के लिए शुक्रवार को ‘काला दिवस’ मनाएंगे और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और राज्य के गृहमंत्री अनिल विज के पुतले फूकेंगे। 

एसकेएम ने कहा कि किसान 26 फरवरी को राजमार्गों पर ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे और 14 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘अखिल भारतीय किसान मजदूर महापंचायत’ करेंगे। एसकेएम ‘दिल्ली चलो’ मार्च का हिस्सा नहीं है, लेकिन वह इसका समर्थन कर रहा है। एसकेएम ने केंद्र के निरस्त किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ 2020-21 में किसान आंदोलन की अगुवाई की थी। 

ये भी पढ़ें-

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें पंजाब सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement