IIT खड़गपुर के स्टूडेंट का शव हॉस्टल के कमरे से मिला, परिजनों ने जताया हत्या की आशंका

IIT खड़गपुर में थर्ड इयर के 23 वर्षीय छात्र ने हॉस्टल के कमरे से मिला। जब घंटों बीत जाने के बाद छात्र से संपर्क नहीं हुआ तो उसके कमरे को खोला गया जहां उसकी लाश पड़ी हुई थी। छात्र के परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

Pankaj Yadav Edited By: Pankaj Yadav @pan89168
Published on: October 15, 2022 20:25 IST
IIT Kharagpur student's body found in hostel room- India TV Hindi
IIT Kharagpur student's body found in hostel room

Highlights

  • IIT खड़गपुर में थर्ड इयर के छात्र का शव मिला
  • हॉस्टल में उसके कमरे का दरवाजा जबरन खोला गया
  • परिजनों का आरोप- हमारा बेटा सुसाइड नहीं कर सकता उसकी हत्या हुई है

IIT खड़गपुर में थर्ड इयर के एक स्टूडेंट का कुछ दिनों पुराना शव हॉस्टल में उसके कमरे से मिला है। प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान के एक अधिकारी ने बताया कि हॉस्टल के कमरे का दरवाजा तोड़े जाने पर शव बरामद हुआ है। पिछले एक सप्ताह में IIT के छात्र के मौत की यह दूसरी घटना है। IIT गुवाहाटी में बीटेक के पांचवें वर्ष के 20 वर्षीय छात्र का शव 10 अक्टूबर को उसके कमरे में फांसी से लटकता हुआ मिला था। 

हॉस्टल के कमरे में पाया गया शव

IIT खड़गपुर के रजिस्ट्रार तमलनाथ ने बताया कि फैनाज अहमद से घंटों संपर्क नहीं हो पाने के बाद शुक्रवार को हॉस्टल में उसके कमरे का दरवाजा जबरन खोला गया, जहां उसका शव मिला। IIT खड़गपुर के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि अभी तक किसी प्रकार के किसी छेड़खानी का संदेह नहीं है और प्रशासन 23 साल के छात्र की मृत्यु से जुड़ी परिस्थितियों की जांच कर रही है। 

माता-पिता ने जताई हत्या की आशंका

फैनाज के दोस्तों ने बताया कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग के तीसरे वर्ष के छात्र को अंतिम बार 13 अक्टूबर को देखा गया था। तमलनाथ ने बताया कि फैनाज असम में तिनसुकिया जिले का रहने वाला था और पढ़ाई में उसका प्रदर्शन बहुत अच्छा था। हांलाकि, फैनाज के माता-पिता ने हत्या की आशंका जताते हुए मामले की विस्तृत जांच की मांग की है। फैनाज की मां ने एक बंगाली टीवी चैनल से कहा, ‘‘हमारा बेटा पारिवारिक कार्यक्रम के दौरान बहुत खुश था, वह आत्महत्या नहीं कर सकता है। उसकी हत्या हुई है। हमारी मांग है कि उसकी मौत से जुड़ी परिस्थितियों और उसकी मृत्यु कैसे हुई इसकी विस्तृत जांच की जाए।’’ 

लड़के ने सुसाइड क्यों किया इसकी गुत्थी अनसुलझी

रजिस्ट्रार ने कहा, ‘‘हमें भी समझ नहीं आ रहा है कि ऐसा कैसे हुआ। वह हाल ही में एक पारिवारिक कार्यक्रम में लौटा था और वह वरिष्ठ छात्र था।’’ तमलनाथ ने बताया कि IIT में प्रशिक्षित कर्मी और दो NGO हैं जो अवसाद ग्रस्त लोगों की काउंसलिंग करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले दो वर्ष में कोविड-19 और लॉकडाउन के कारण हमने छात्रों के काउंसलिंग पर ज्यादा जोर दिया है ताकि हल्के लक्षण दिखते ही तत्काल उससे निपटा जा सके।’’ 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें पश्चिम बंगाल सेक्‍शन
gujarat-elections-2022