Wednesday, May 29, 2024
Advertisement

मिडिल ईस्ट में बढ़ा तनाव, ईरान ने कहा-इज़राइल जवाबी हमला करेगा तो हम भी चुप नहीं बैठेंगे

मिडिल ईस्ट में तनाव बढ़ता जा रहा है, जहां इजरायल ने कहा है कि सही समय पर ईरान को जवाब देंगे। अब ईरान ने कहा है कि अगर इजरायल एयरस्ट्राइक का जवाब देता है तो हम भी चुप नहीं बैठेंगे।

Edited By: Kajal Kumari @lallkajal
Published on: April 16, 2024 8:58 IST
iran israel tension- India TV Hindi
Image Source : REUTERS ईरान का इजरायल को करारा जवाब

इज़राइल के सैन्य प्रमुख ने सोमवार को कहा था कि सही समय देखकर इस सप्ताह के अंत तक ईरान के हमले का जवाब देगा, सैन्य प्रमुख ने ये भी कहा था कि हम बस प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के संदेश का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच, ईरान ने कहा कि वह इजराइल के किसी भी हमले का 'सेकेंड भर में जवाब' देगा। ईरान और इजरायल दोनों देशों ने एक-दूसरे के लिए ऐसी बात कही है जिससे मिडिल ईस्ट में तनाव बढ़ सकता है और युद्ध की आशंका भी गहराने लगी है।

इजरायली सैन्य प्रमुख, हरजी हलेवी ने कहा है कि इजरायल अपने अगले कदमों पर विचार कर रहा है और 13 अप्रैल के ईरानी हमले का "जवाब दिया जाएगा", जबकि राजनीतिक मामलों के लिए ईरान के उप विदेश मंत्री, अली बघेरी कान ने जोर देकर कहा कि ईरान की ओर से इजरायल के हमले की प्रतिक्रिया की गति "कुछ सेकंड से भी कम होगी।"

मिडिल ईस्ट में बढ़ता जा रहा है तनाव, जानें नया घटनाक्रम

 

तेहरान के सप्ताहांत हमलों के बाद ईरान और इज़राइल के बीच तनाव बढ़ने पर इराकी प्रधान मंत्री मोहम्मद शिया अल-सुदानी ने वाशिंगटन में वार्ता के दौरान मध्य पूर्व में संयम बरतने का भी आह्वान किया है। वहीं, चीन के विदेश मंत्री का कहना है कि ईरान अपने ऊपर आई विपत्ति के बाद 'स्थिति को संभालने' और मध्य पूर्व में हो रहे तनाव से बचाने में सक्षम है।

बता दें कि 13 अप्रैल को, ईरान ने पहली बार अपने कट्टर दुश्मन इज़राइल पर सीधा हमला किया था जिसमें उसने 300 से अधिक मिसाइलें और ड्रोन दागे थे। यह हमला सीरिया की राजधानी दमिश्क में तेहरान के वाणिज्य दूतावास भवन पर 1 अप्रैल को हुए घातक हवाई हमले के जवाब में किया गया था, जिसके लिए इज़राइल को दोषी ठहराया गया था और इजरायल ने आरोप का कुछ जवाब भी नहीं दिया था।

इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ईरान के हमले की प्रतिक्रिया के बारे में निर्णय लेने के लिए सोमवार को 24 घंटे से भी कम समय में दूसरी बार अपने युद्ध मंत्रिमंडल को बुलाया। सरकार ने अभी तक किसी भी फैसले पर कोई घोषणा नहीं की है।

इजराइली प्रधानमंत्री के कार्यालय ने कहा कि नेतन्याहू ने अमेरिका के शीर्ष अधिकारी स्टीव स्कैलिस के साथ बातचीत में कहा, “इजरायल अपनी रक्षा के लिए जो भी जरूरी होगा वह करेगा।”

इज़राइल के सैन्य प्रमुख ने कहा, "जैसा कि हम आगे देखते हैं, हम अपने कदम बढ़ा रहे हैं, और इज़राइल राज्य के क्षेत्र में इतनी सारी मिसाइलों, क्रूज़ मिसाइलों, यूएवी के प्रक्षेपण को प्रतिक्रिया मिलेगी।" सेना के प्रवक्ता डैनियल हगारी ने कहा कि देश "हम जो समय चुनेंगे, उसी समय" जवाब देंगे।

इज़राइल के चैनल 12 के अनुसार, युद्ध कैबिनेट ने अपनी बैठक में कई विकल्पों पर चर्चा की, जिसका उद्देश्य  पूरी तरह से युद्ध किए बिना इज़राइल पर ड्रोन और मिसाइल हमले के लिए ईरान को नुकसान पहुंचाना था।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement