1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. टूटी सैकड़ों साल पुरानी परंपरा, सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं ने प्रवेश कर बनाया इतिहास

टूटी सैकड़ों साल पुरानी परंपरा, सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं ने प्रवेश कर बनाया इतिहास

बताया जा रहा है कि बिंदु और कनकदुर्गा नाम की दो महिलाओं ने आधी रात को मंदिर की सीढ़ियां चढ़नी शुरू की और सुबह करीब 3.45 पर भगवान के दर्शन किए। दोनों महिलाओं के साथ साधारण कपड़ों में और यूनिफॉर्म में कुछ पुलिसकर्मी थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 02, 2019 10:09 IST
टूटी सैकड़ों साल पुरानी परंपरा, सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं ने प्रवेश कर बनाया इतिहास- India TV
टूटी सैकड़ों साल पुरानी परंपरा, सबरीमाला मंदिर में दो महिलाओं ने प्रवेश कर बनाया इतिहास

नई दिल्ली: कई दिनों से चर्चा में रहने वाले सबरीमाला मंदिर से बड़ी खबर सामने आई है। यहां 50 साल से कम उम्र की दो महिलाओं की एंट्री हुई है जो सबरीमाला मंदिर के इतिहास में पहली बार हुआ है। बता दें कि 10 से 50 साल की महिलाओं की एंट्री पर मंदिर की ओर से बैन है, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने हटा दिया था, मगर इसके बाद भी मंदिर ने यह बैन बरकरार रखा। हालांकि, बुधवार को पुलिस सूत्रों ने कहा कि 50 साल से कम उम्र की दो महिलाओं ने मंदिर में एंट्री ली है।

बताया जा रहा है कि बिंदु और कनकदुर्गा नाम की दो महिलाओं ने आधी रात को मंदिर की सीढ़ियां चढ़नी शुरू की और सुबह करीब 3.45 पर भगवान के दर्शन किए। दोनों महिलाओं के साथ साधारण कपड़ों में और यूनिफॉर्म में कुछ पुलिसकर्मी थे। मंदिर में प्रवेश करने वाली दोनों महिलाओं से फिलहाल संपर्क नहीं हो पाया है।

गौरतलब है कि सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के मामले पर सुनवाई के लिए 5 जजों की बेंच बनाई गई थी। इसमें एक महिला जज इंदु मल्होत्रा थीं। इस मामले फैसला 4-1 से फैसला आया था जिसमें कहा गया था कि किसी भी उम्र की महिला को मंदिर में प्रवेश से रोका नहीं जा सकता जबकि पीठ में शामिल एकमात्र महिला जज इंदु मल्होत्रा ने इसका विरोध किया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X