1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. पाकिस्तान में Coronavirus के मामले 2,500 के करीब ; अर्थव्यवस्था के लिए बड़े पैकेज की घोषणा

पाकिस्तान में Coronavirus के मामले 2,500 के करीब ; अर्थव्यवस्था के लिए बड़े पैकेज की घोषणा

 पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले शुक्रवार को 2,500 के करीब पहुंच गए। इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि कोई भी यकीन से नहीं कह सकता है कि कोविड-19 महामारी कब खत्म होगी। 

Bhasha Bhasha
Published on: April 03, 2020 23:05 IST
पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले 2,500 के करीब ; अर्थव्यवस्था के लिए बड़े पैकेज की घोषणा - India TV Hindi
पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले 2,500 के करीब ; अर्थव्यवस्था के लिए बड़े पैकेज की घोषणा 

इस्लामाबाद:  पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले शुक्रवार को 2,500 के करीब पहुंच गए। इस बीच, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि कोई भी यकीन से नहीं कह सकता है कि कोविड-19 महामारी कब खत्म होगी। इसके साथ ही उन्होंने अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के मकसद से निर्माण क्षेत्र के लिए बड़े पैमाने पर पैकेज की घोषणा की। उन्होंने इस्लामाबाद में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हमने तय किया है कि इस वर्ष के दौरान निर्माण क्षेत्र में निवेश करने वालों से उनकी आय के स्रोत के बारे में नहीं पूछा जाएगा।’’ 

उन्होंने निर्माण क्षेत्र के आधार पर एक निश्चित कर व्यवस्था की घोषणा की और अपने ‘नया पाकिस्तान हाउसिंग’ परियोजना में निवेश के लिए 90 प्रतिशत कर कटौती की पेशकश की। परियोजना का मकसद गरीबों के लिए घर बनाना है। खान ने सीमेंट और स्टील को छोड़कर, निर्माण के कई क्षेत्रों पर बकाया कर वापस लेने की घोषणा की। उन्होंने लोगों द्वारा आवास इकाइयों की बिक्री पर पूंजीगत लाभ कर भी माफ कर दिया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार निर्माण क्षेत्र को उद्योग का दर्जा देगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम 14 अप्रैल से निर्माण क्षेत्र शुरू करेंगे और यह भी देखेंगे कि हम अन्य उद्योग कैसे शुरू कर सकते हैं।’’ खान ने यह भी कहा कि सबसे कमजोर परिवारों की मदद के लिए उन्हें 12,000 रुपये प्रति माह दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शुरुआती चरण में 1.2 करोड़ परिवारों को यह मदद मिलेगी।

उन्होंने यह भी कहा कि 4,00,000 स्वयंसेवकों ने अब तक गरीबों की पहचान करने और उन्हें भोजन प्रदान करने में मदद करने के लिए ‘कोरोना रिलीफ टाइगर फोर्स’ में शामिल होने के लिए पंजीकरण कराया है। इस बीच, पाकिस्तान में शुक्रवार को कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 2,458 हो गए। देश में इस वैश्विक महामारी से 37 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 126 लोग अब तक स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं, अधिकारी इस संक्रामक रोग को फैलने से रोकने के लिए एक साथ मिलकर नमाज पढ़ने वाले लोगों की संख्या पांच तक सीमित करने की सरकार की अधिसूचना के बावजूद बड़ी संख्या में लोगों को एकत्रित होने से रोकने के लिए जूझ रहे हैं। 

पंजाब प्रांत में कोविड-19 के 928 मामले, सिंध में 783, खैबर पख्तूनख्वा में 311, बलूचिस्तान में 169, गिलगित-बाल्टिस्तान में 190, इस्लामाबाद में 68 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में नौ मामले सामने आए हैं। मुल्क में एक हफ्ते से अधिक समय के आंशिक लॉकडाउन (बंद) के बावजूद मामलों की संख्या रोज बढ़ रही है। सरकार ने वायरस पर लगाम लगाने के लिए शुक्रवार की नमाज तथा अन्य धार्मिक सभा में भाग लेने की संख्या तीन से पांच तक सीमित करने की अधिसूचना जारी की थी। प्रांतीय और संघीय सरकारें भी लोगों को मस्जिदों से दूर रहने के लिए राजी करने की कोशिश कर रही है लेकिन उन्हें इसमें ज्यादा कामयाबी नहीं मिल रही। सिंध प्रांतीय सरकार ने लोगों को शुक्रवार की नमाज में भाग लेने से रोकने के लिए दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक पूरी तरह बंद की घोषणा की है। सिंध के स्थानीय सरकार मंत्री नासिर शाह ने कहा, ‘‘हालांकि मस्जिद खुली रहेंगी जहां केवल तीन से चार लोग जुमे की नमाज पढ़ सकेंगे।’’

 इस बीच, पाकिस्तान स्वस्थ हो चुके मरीजों के प्लाज्मा के जरिए कोविड-19 के मरीजों का इलाज करने की कोशिश कर रहा है और पिछले महीने स्वस्थ हुए एक व्यक्ति ने कराची में प्लाज्मा दान किया है। इससे पहले राष्ट्रीय रक्त रोग संस्थान के प्रख्यात रुधिर रोग विशेषज्ञ ताहिर शम्सी ने कहा कि इस तकनीक का इस्तेमाल मरीजों के इलाज में किया जा सकता है और चीन ने भी प्रभावी तौर पर इसका इस्तेमाल किया है। वहीं, रेडियो पाकिस्तान ने खबर दी कि विश्व बैंक ने वैश्विक कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए 160 अरब डॉलर की आपात मदद को मंजूरी दी है, जिनमें से 20 करोड़ डॉलर की मदद पाकिस्तान को दी गई है।

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

Related Video
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X