हम गलतियां कर सकते हैं, लेकिन देशद्रोही या साजिशकर्ता कभी नहीं हो सकते: पाक सैन्य प्रवक्ता

पाक सेना के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि हम गलतियां कर सकते हैं, लेकिन देशद्रोही या साजिशकर्ता कभी नहीं हो सकते। लोगों के बिना सेना कुछ भी नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर हमने अतीत में गलती की है, तो हम पिछले बीस सालों से उन्हें अपने लहू से धो रहे हैं।

Akash Mishra Edited By: Akash Mishra @Akash25100607
Published on: October 27, 2022 23:15 IST
प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi
Image Source : FILE प्रतीकात्मक फोटो

Islamabad: पाकिस्तान सेना के एक शीर्ष जनरल ने सैन्य संस्थानों में लोगों से विश्वास बनाए रखने की अपील करते हुए गुरुवार को कहा कि पाकिस्तानी सेना के जवान ‘गलतियां’ कर सकते हैं, लेकिन वे कभी भी ‘देशद्रोही या साजिशकर्ता’ नहीं हो सकते। सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने देश की शक्तिशाली जासूसी एजेंसी ISI प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अहमद अंजुम द्वारा एक अभूतपूर्व प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही, जिन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान पर परोक्ष रूप से हमला किया। 

'लोगों के बिना सेना कुछ भी नहीं'

सेना के शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘‘हम गलतियां कर सकते हैं, लेकिन देशद्रोही या साजिशकर्ता कभी नहीं हो सकते। लोगों के बिना सेना कुछ भी नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हमने अतीत में गलती की है, तो हम पिछले बीस सालों से उन्हें अपने लहू से धो रहे हैं। हम पाकिस्तान के लोगों को कभी नाकाम नहीं करेंगे, यह हमारा वादा है।’’ उन्होंने कहा कि सेना चाहती है कि पत्रकार अरशद शरीफ की हत्या के बारे में फैक्ट्स सामने आए, जिनकी रविवार रात केन्या में नैरोबी से एक घंटे की दूरी पर स्थित एक पुलिस स्टेशन पर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जिससे देश में सियासी घमासान शुरू हो गया। 

अंतिम संस्कार में शामिल हुए शामिल हुए हजारों लोग

केन्या की पुलिस ने बाद में कहा कि यह एक बच्चे की किडनेपिंग के मामले में एक कार की तलाशी के दौरान ‘गलत पहचान’ का मामला था। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘इसलिए सरकार से एक हाई लेवल जांच आयोग गठित करने का अनुरोध किया गया है।’’ ARY टीवी के पूर्व रिपोर्टर और एंकर अरशद शरीफ पूर्व प्रधानमंत्री खान से अच्छे संपर्क के लिए जाने जाते थे। पाकिस्तान की सुरक्षा एजेंसियों द्वारा ‘राष्ट्र विरोधी’ विमर्श को आगे बढ़ाने के आरोप में मामला दर्ज किए जाने के बाद वह इस साल की शुरुआत में केन्या भाग गए थे। अरशद के पार्थिव शरीर को पाकिस्तान लाया गया और गुरुवार को दफनाया गया, जिसमें हजारों लोग उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए। 

ARY चैनल के CEO को वापस पाकिस्तान लाया जाना चाहिए

सेना के प्रवक्ता ने कहा कि ARY चैनल के CEO सलमान इकबाल को भी ‘पाकिस्तान वापस लाया जाना चाहिए’ और जांच का हिस्सा बनाया जाना चाहिए, क्योंकि उनका नाम बार-बार सामने आया है। उन्होंने कहा, ‘‘यह तय करना होगा कि उनकी (पत्रकार की) हत्या से सही मायने में किसे फायदा हुआ।’’ खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ और उसके सीनियर नेताओं ने अरशद की हत्या की निंदा की और विस्तृत जांच की मांग की। खान ने ट्वीट किया, ‘‘सच बोलने की कीमत चुकाने वाले अरशद शरीफ की नृशंस हत्या से स्तब्ध हूं। उन्हें देश छोड़ना पड़ा और विदेश में छिपना पड़ा, लेकिन उन्होंने सोशल मीडिया पर ताकतवर को बेनकाब करते हुए सच बोलना जारी रखा। आज पूरा देश उनकी मृत्यु पर शोक व्यक्त करता है।’’ 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन