1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. Coronavirus: 4 लाख के पार पहुंचा मरीजों का आंकड़ा, इटली में चीन से दोगुनी मौतें, जानिए दुनियाभर का हाल

Coronavirus: 4 लाख के पार पहुंचा मरीजों का आंकड़ा, इटली में चीन से दोगुनी मौतें, जानिए दुनियाभर का हाल

कोरोना वायरस के कारण मंगलवार, 24 मार्च रात 11 बजे तक इटली में इस वायरस के कारण मौत का आंकड़ा 6820 तक पहुंच गया। इटली इस वायरस से चीन से ज्यादा प्रभावित है जहां से यह वायरस दुनियाभर में फैला है। चीन में इस वायरस के कारण अबतक 3277 लोगों की मौत हुई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 25, 2020 1:02 IST
Coronavirus death toll in Italy reaches to 6820- India TV
Image Source : PTI Coronavirus death toll in Italy reaches to 6820

कोरोना वायरस के कारण मंगलवार, 24 मार्च रात 11 बजे तक दुनियाभर में इसके मरीजों का आंकड़ा 4 लाख के पार पहुंच गया है। वहीं इटली में इससे 6820 लोगों की मौत हो गई है। इटली इस वायरस के कारण चीन से भी ज्यादा प्रभावित है जहां से यह वायरस दुनियाभर में फैला है। चीन में इस वायरस के कारण अबतक 3277 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं अमेरिका में भी इसके मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है जो 49,594 तक पहुंच चुका है। अमेरिका में इस वायरस के कारण अबतक 622 लोगों की मौत हो चुकी है। इससे पहले न्यूयार्क शहर में निरंतर बढ़ने वाले कोविड-19 के मरीजों को देखते हुए न्यूयार्क के मेयर देब्रेसिओ ने एक न्यूज ब्रीफिंग में ट्रम्प सरकार की निंदा करते हुए कहा था कि उन्होंने देश की शक्ति को इकट्ठा कर महामारी के फैलाव को नियंत्रित नहीं किया।

देब्रेसिओ ने आलोचना करते हुए कहा था कि करोड़ों अमेरिकी लोग नहीं जानते हैं कि आप क्या कर रहे हैं। जब देश आपात स्थिति में फंसा, आप ने सरकार की कार्यक्षमता का प्रयोग नहीं किया। महामारी के सामने हमें पूरी शक्ति का इस्तेमाल करना है, लेकिन पता नहीं क्यों आप ने देर से काम किया और सिर्फ इन्तजार करते रहे। आप ने अमेरिका को बचाने का मौका खोया है। ट्रम्प सरकार ने 18 मार्च तक ही प्रतिरक्षा उत्पादन कानून पुन: शुरू किया।

देब्रेसिओ ने चेतावनी दी थी कि और दो तीन हफ्तों के बाद न्यूयार्क सिटी में कोविड-19 का मुकाबले में सभी चिकित्सक सामग्री खत्म हो जाएगी। लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि क्यों राष्ट्रपति ने समय पर सैन्य संसाधनों का प्रयोग नहीं किया। अभी तक उन्हें हिचकिचाहट क्यों हो रही है।

उधर, अमेरिकी सेना ने इस के बाद स्वास्थ्य विभागों को 50 लाख मास्क और 2000 वेनटिलेटर देने का एलान किया। साथ ही सेना दो चिकित्सक जहाज भी भेजेगी, जिन में एक या दो हफ्तों में न्यूयार्क बंदरगाह पहुंचेगा। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारी के अनुसार इस चिकित्सा जहाज में 1000 बेड हैं, लेकिन कोविड-19 के मरीजों का उपचार करने के लिए नहीं है, जबकि आम रोगों का इलाज करने के लिए है। ताकि न्यूयार्क के चिकित्सक संसाधनों का प्रयोग कोविड-19 के उपचार में किया जा सके। (आंकड़े- worldometers)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X