Health Tips: पैर और शरीर का अक्सर सुन्न होना इस बीमारी की ओर करता है इशारा, समय रहते हो जाएं सावधान

पैरों में झनझनाहट की समस्या तब आती है जब शरीर में कुछ आवश्यक तत्व जिसमें विटामिन-डी और कुछ अन्य तत्वों की कमी आ जाती है।

Vineeta Mandal Written By: Vineeta Mandal
Updated on: September 28, 2022 15:20 IST
Health news- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO हेल्थ न्यूज

Highlights

  • शरीर में झनझनाहट होना रक्त गाढ़ा हो जाने का पहला इशारा है।
  • हाथ पैरों में झनझनाहटको नजरअंदाज बिल्कुल भी न करें।

Health Tips: खराब होती है दिनचर्या की वजह से लोग जाने अनजाने कई बीमारियों की गिरफ्त में आ रहे हैं। चिंताजनक बात तो यह है कि ज्यादातर हम में से कई रोगों के लक्षण की अनदेखी कर देते हैं।  जैसे बहुत से लोगों के पैर सुन्न या उसमें  झनझनाहट हो जाती है। कई बार ऐसे होना आम बात होती है लेकिन अक्सर ऐसा होता है तो सावधान हो जाना चाहिए। आपको बात दें कि यह समस्या तब आती है जब शरीर में कुछ आवश्यक तत्व जिसमें विटामिन-डी और कुछ अन्य तत्वों की कमी आ जाती है। अगर आप भी ऐसी परेशानी से जूझ रहे हैं तो ये खबर आपके लिए ही है। यहां हम आपको कारण और इस समस्या का समाधान भी बताएंगे।

ये भी पढ़ें: कभी गैराज में काम करते थे गुलजार साहब, ऐसे बदली किस्मत, जानें दिलचस्प किस्सा

पैरों में झनझनाहट और सुन्न होने का कारण

शरीर का खून कई बार गाढ़ा हो जाता है, जिससे सभी नसों तक रक्त का संचार ठीक प्रकार से नहीं हो पाता है। यह तब होता है जब कोई व्यक्ति व्यायाम और सैर सब से दूरी बना लेता है। इसके अलवा यह तब भी होता है जब कोई व्यक्ति अपने खानपान में कोताई बरतता है। बाजार का भोजन ज्यादा और फल एवं कच्ची सब्जियों का सेवन कम कर देता है। लगातार शराब पीने और धूम्रपान करने से भी शरीर में झनझनाहटमहसूस होती है। शरीर में विटामिन बी 12 की कमी होने पर भी हाथ-पैरों में झनझनाहट होती है। इस तरह की दिक्कत 60 साल से अधिक उम्र के लोगों में काफी ज्यादा देखने को मिलती है।

शरीर में झनझनाहटकिस बात का इशारा दे रही है

शरीर में झनझनाहट होना हाई ब्लड प्रेशर की ओर पहला इशारा है। हाई ब्लड प्रेशर से शुगर और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या उत्पन्न हो सकती है। यह पहली चेतावनी है इसे नजर अंदाज करना जान पर भारी पड़ सकता है। हाथ पैरों में झनझनाहट होने पर इसकी सही जांच आवश्यक है और समय पर उपचार लेना भी। अगर हाई बीपी की समस्या डिटेक्ट होती है तो इसके लिए दवा लेना जरूरी है।

समय पर करें इलाज और चेतावनी को नजर अंदाज न करें

जी हां, हाथ पैरों में झनझनाहटको नजरअंदाज बिल्कुल भी न करें। अपने चिकित्सक से परामर्श लें और व्ययाम के साथ सुबह ही सैर का नियम पहली फुरसत में ही बना लें। क्योंकि कहा भी जाता है जान है तो जहान है।

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन