Friday, June 14, 2024
Advertisement

उत्तराखंड: चारधाम यात्रा पर जानेवाले श्रद्धालुओं के लिए जरूरी खबर, रखें इन बातों का ध्यान, नहीं तो होंगे परेशान

Chardham Yatra : चारधाम यात्रा पर जानेवाले ऋद्धालुओं के लिए उत्तराखंड सरकार ने रजिस्ट्रेशन को अनिवार्य कर दिया है। बिना रजिस्ट्रेशन के यात्रा पर जानेवाले लोगों को एंट्री प्वाइंट पर रोक दिया जाएगा।

Reported By : Ruchi Kumar Edited By : Niraj Kumar Updated on: May 24, 2024 23:06 IST
Chardham, yatra- India TV Hindi
Image Source : PTI बद्रीनाथ में दर्शन के लिए उमड़े श्रद्धालु

Chardham Yatra : चारधाम (गंगोत्री, यमुनोत्री, बद्रीनाथ एवं केदारनाथ) यात्रा पर जानेवाले श्रद्धालुओं के लिए उत्तराखंड सरकार ने रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिया है और आदेश जारी किया है कि राजिस्ट्रेशन कराने के बाद ही श्रद्धालु यात्रा हेतु वहां जाएं। श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा को ध्यान में रखकर उत्तराखण्ड सरकार द्वारा चार धाम यात्रा-2024 के लिए अनिवार्य रजिस्ट्रेशन व्यवस्था लागू की गई है। जो भी यात्री बिना रजिस्ट्रेशन कराए आएंगे तो उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। इस संबंध में उत्तराखंड सरकार द्वारा राज्यों को एडवाइजरी भी भेजी गई है।

एडवाइजरी जारी 

मुख्यमंत्री के निर्देश पर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने श्रद्धालुओं के लिए एडवाइजरी जारी किया है जिसमें उनसे रजिस्ट्रेशन  के बाद ही यात्रा पर आने का अनुरोध किया गया है। परामर्श में कहा गया है कि बिना रजिस्ट्रेशन  के आने पर उन्हें ‘बैरियर’ या ‘चेक प्वाइंट’ पर रोका जा सकता है और इससे उन्हें भारी असुविधा का सामना करना पड़ेगा। यात्रियों को यह भी सलाह दी गई है कि रजिस्ट्रेशन  होने पर वे निर्धारित तिथि पर ही यात्रा पर आएं और जिस धाम के लिए पंजीकरण करवाया है, उसी मार्ग पर जाएं।

यूपी सरकार ने भी श्रद्धालुओं से की अपील

इस संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार ने चार धाम यात्रा पर जा रहे अथवा जाने के इच्छुक प्रदेश के तीर्थ यात्रियों से यह अपील की गई है कि वे अनिवार्य रूप से रजिस्ट्रेशन कराएं और रजिस्ट्रेशन दर्ज तारीख को ही उत्तराखंड जाएं। चार धाम यात्रा-2024 के लिए उत्तराखण्ड सरकार द्वारा  URL https://registrationandtouristcare.uk.gov.in/signin.php अथवा मोबाइल ऐप  Toursit Care Uttarakhand पर अनिवार्य रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था लागू की गई है। इसलिए चारधाम यात्रा-2024 के लिए अनिवार्य रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी नहीं करने वाले तीर्थ यात्री/श्रद्धालु चारधाम की यात्रा न करें। ऐसे यात्री जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं है, उन्हें निर्धारित चेक प्वांइन्ट्स पर रोक दिया जायेगा और वे उसके आगे नहीं जा सकेंगे।

दिशा-निर्देश का पालन करें श्रद्धालु

यूपी सरकार की ओर से प्रदेश के समस्त टूर ऑपरेटर तथा ट्रैवल एजेन्ट से भी यह अपील की गई है कि वे भी यह सुनिश्चित कराएं कि उनके ग्राहकों द्वारा यात्रा प्रारम्भ करने से पहले जरूरी रजिस्ट्रेशन करा लिया गया कि नहीं। सरकार की ओर से यह कहा गया है कि सभी इच्छुक श्रद्धालु यात्रा सम्बन्धी दिशा-निर्देशों से अवगत रहें, जिससे उनकी चार धाम यात्रा बिना किसी व्यवधान के सुगमतापूर्ण ढंग से सम्पन्न हो सके।

10 मई को शुरू हुई है चारधाम यात्रा

दस मई को यात्रा शुरू होने के बाद से अब तक पहले 13 दिनों में 8,52,018 तीर्थयात्री चारों धामों के दर्शन कर चुके हैं । अधिकारियों ने बताया कि हरिद्वार और ऋषिकेश में ‘ऑफलाइन’ पंजीकरण बंद कर दिया गया है और अब ‘ऑनलाइन’ पंजीकरण के बाद ही श्रद्धालु चारधाम यात्रा पर आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी चारधाम यात्रा पर देश-दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं की व्यवस्थित, सुगम, सुरक्षित और सुविधाजनक यात्रा को लेकर अत्यंत गंभीर हैं। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement