1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. भारत-चीन समझौते पर राहुल ने किया ट्वीट-जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है सरकार?

भारत-चीन समझौते पर राहुल ने किया ट्वीट-जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है सरकार?

राहुल गांधी ने राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के वक्तव्य के बाद बृहस्पतिवार को केंद्र पर निशाना साधा और सवाल किया कि सरकार जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 11, 2021 14:33 IST
भारत-चीन समझौते पर राहुल गांधी ने कहा-जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है सरकार?- India TV Hindi
Image Source : PTI भारत-चीन समझौते पर राहुल गांधी ने कहा-जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है सरकार?

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत और चीन के बीच एलएसी पर सेना हटाने को लेकर हुए समझौते पर कड़ी टिप्पणी की है।  उन्होंने राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के वक्तव्य के बाद बृहस्पतिवार को केंद्र पर निशाना साधा और सवाल किया कि सरकार जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है। उन्होंने ट्वीट किया, "पूर्व की यथास्थिति बरकरार नहीं रहने का मतलब कोई शांति नहीं।" कांग्रेस नेता ने सवाल किया, "भारत सरकार हमारे जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है और अपना क्षेत्र जाने को क्यों दे रही है?" 

पढ़ें:- खुशखबरी! कम किराये में आरामदायक सफर, रेलवे ने तैयार किए आधुनिक थ्री-टियर AC डिब्बे, जानिए क्या है खासियतें

गौरतलब है कि राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध की स्थिति को लेकर बृहस्पतिवार को राज्यसभा में वक्तव्य दिया। उन्होंने कहा कि पैगोंग झील के उत्तर और दक्षिणी किनारे से सैनिकों के पीछे हटने का समझौता हो गया है।  सिंह ने बताया कि पैंगोंग झील क्षेत्र में चीन के साथ सेनाओं को पीछे हटाने का जो समझौता हुआ है उसके अनुसार दोनों पक्ष अग्रिम तैनाती चरणबद्ध, समन्वय और सत्यापन के तरीके से हटाएंगे।

पढ़ें: रेलवे ने किया नई स्पेशल ट्रेन चलाने का ऐलान, जानिए रूट, टाइमिंग और स्टॉपेज

भारत ने ‘‘कुछ भी खोया नहीं है’’

राज्यसभा में दिए एक बयान में रक्षा मंत्री ने यह आश्वासन भी दिया कि इस प्रक्रिया के दौरान भारत ने ‘‘कुछ भी खोया नहीं है’’। उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के अन्य क्षेत्रों में तैनाती और निगरानी के बारे में ‘‘कुछ लंबित मुद्दे’’ बचे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इन पर हमारा ध्यान आगे की बातचीत में रहेगा ।’’ सिंह ने कहा, ‘‘मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमारे रुख और अनवरत वार्ताओं के फलस्वरूप चीन के साथ पैंगोंग झील के उत्तर एवं दक्षिण किनारों पर सेनाओं के पीछे हटने का समझौता हो गया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इस बात पर भी सहमति हो गई है कि पैंगोंग झील से पूर्ण तरीके से सेनाओं के पीछे हटने के 48 घंटे के अंदर वरिष्ठ कमांडर स्तर की बातचीत हो तथा बाकी बचे हुए मुद्दों पर भी हल निकाला जाए।’’ (इनपुट-भाषा)

पढें:- गुड न्यूज: अब स्पेशल ट्रेन में बर्थ मिलने में होगी आसानी, रेलवे ने बढ़ाई डिब्बों की संख्या

पढेंअच्छी खबर: यात्रियों के लिए रेलवे का नया गिफ्ट, रोजाना दौड़ेगी यह स्पेशल ट्रेन, जानिए टाइमिंग और स्टॉपेज

 

 

 

Click Mania