1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. Russia Ukraine News: यूक्रेन में कीव के उपनगरों में रूस ने रातभर गोले दागे

Russia Ukraine News: यूक्रेन में कीव के उपनगरों में रूस ने रातभर गोले दागे

रूस और यूक्रेन जंग 19वें दिन भी जारी है। रूस लगातार और ताबड़तोड़ हमले कर रहा है।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 14, 2022 13:27 IST
Russia Ukraine News- India TV Hindi
Image Source : PTI FILE PHOTO Russia Ukraine News

Russia Ukraine News: रूस और यूक्रेन जंग 19वें दिन भी जारी है। रूस लगातार और ताबड़तोड़ हमले कर रहा है। यूक्रेन में कीव क्षेत्र के प्रमुख ओलेक्सी कुलेबा ने सोमवार को कहा कि रूसी बलों ने कीव के उत्तर-पश्चिम उपनगरों पर रात भर तोपों से गोले दागे और राजधानी के पूर्वी हिस्से में कई इलाकों को निशाना बनाया। क्षेत्रीय प्रशासन प्रमुख ओलेक्सी कुलेबा ने यूक्रेनी टेलीविजन को बताया कि कीव के पूर्व में लड़ाई के दौरान ब्रोवरी के एक नगर काउंसलर की जान चली गई।

उत्तर-पश्चिमी शहरों इरपिन, बुका और होस्तोमेल में भी रात भर हमले किए जाने की सूचना मिली है। राजधानी कीव पर कब्जा करने की कोशिश में रूस द्वारा इन इलाकों में सबसे अधिक हमले किए गए हैं। यूक्रेन के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ ने सोमवार सुबह कहा कि रूसी सैनिकों ने पिछले 24 घंटों में पश्चिम हिस्से में हमले तेज कर दिए हैं। 

जनरल स्टाफ ने युद्ध के 19वें दिन को चिह्नित करते हुए फेसबुक पर एक बयान में कहा कि यूक्रेनी सेना रूसी ठिकानों को निशाना बना रही है, उनकी सैन्य क्षमताओं को लक्षित कर रही है। उन्होंने रूसी बलों पर गिरजाघरों तथा अन्य नागरिक बुनियादी ढांचों में सैन्य उपकरण स्थापित करने का आरोप लगाया, ताकि यूक्रेनी सेना जवाबी कार्रवाई ना कर पाए। 

यूक्रेन से लौटे छात्रों को डॉक्टर बनाने के लिए हर संभव व्यवस्था करेगी सरकार: प्रधान 

उधर, केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को लोकसभा में कहा कि यूक्रेन में हमलों के बीच वहां से वापस लाए गये भारतीय छात्रों को डॉक्टर बनाने के लिए भारत सरकार हरसंभव व्यवस्था करेगी। प्रश्नकाल में कांग्रेस के गौरव गोगोई के पूरक प्रश्न का उत्तर देते हुए प्रधान ने यह बात कही। गोगोई ने पूछा था कि यूक्रेन संकट के कारण वहां मेडिकल की पढ़ाई बीच में छोड़कर लौटे छात्रों के लिए क्या सरकार केंद्रीय विश्वविद्यालयों के साथ मिलकर या अन्य प्रयास करेगी जिससे उनका भविष्य अंधकार में नहीं रहे। 

प्रधान ने कहा, ‘जब उन्हें (छात्रों को) ले आये हैं तो भारत सरकार सामूहिक रूप से उन्हें डॉक्टर बनाने के लिए जो भी व्यवस्था की जरूरत होगी, उसकी चिंता करेगी। आप आश्वस्त रहिए। हम सभी लोग उसी में लगे हैं।’ केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि फिलहाल यह समय तो संकट से सुरक्षित लौटे छात्रों को संभालने का, उन्हें दहशत से बाहर निकालने का है। 

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस सांसद गोगोई को यूक्रेन के छात्रों के बारे में प्रश्न पूछते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘ऑपरेशन गंगा’ के लिए बधाई भी देनी चाहिए थी। यूक्रेन पर रूस के हमलों के बीच वहां फंस गये भारतीय नागरिकों, जिनमें विशेष रूप से मेडिकल छात्र शामिल हैं, उन्हें ‘ऑपरेशन गंगा’ के बीच सुरक्षित वापस लाया गया है।