1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. इलेक्‍शन
  4. लोकसभा चुनाव 2019
  5. 24 साल के सियासी दुश्मनी के बाद आए एक मंच पर, माया ने मांगा मुलायम के लिये वोट

24 साल के सियासी दुश्मनी के बाद आए एक मंच पर, माया ने मांगा मुलायम के लिये वोट

आज 24 साल बाद एकबार फिर वह नजारा देखने को मिला जिसकी शायद किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। 24 साल के सियासी दुश्मनी के बाद आज एक साथ एक मंच पर आए है। मैनपुरी में मायावती और मुलायम सिंह यादव की साझा रैली हो रही है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 20, 2019 7:15 IST
UP Election News 2019: 24 साल बाद एक मंच पर माया-मुलायम- India TV Hindi
UP Election News 2019: 24 साल बाद एक मंच पर माया-मुलायम

LokSabha Election LIVE UP Election News 2019​: आज 24 साल बाद एकबार फिर वह नजारा देखने को मिला जिसकी शायद किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। 24 साल के सियासी दुश्मनी के बाद आज एक साथ एक मंच पर आए है। मैनपुरी में मायावती और मुलायम सिंह यादव की साझा रैली हो रही है। मायावती मुलायम के लिए वोट मांगने मैनपुरी आई हैं। गेस्ट हाउस कांड के बाद ये पहला मौका है जब मायावती और मुलायम एक साथ आए हैं। मैनपुरी और आंवला में होने जा रही गठबंधन की रैली में बीएसपी सुप्रीमो मायावती और मुलायम सिंह यादव एकसाथ एक मंच पर आए। इससे लगता है कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के रिश्तों में लगातार नजदीकियां बढ़ती जा रही हैं।

1995 में हुए बहुचर्चित गेस्टहाउस कांड के बाद सपा से रिश्ते तोड़ चुकीं मायावती आज जब रैली के लिए क्रिश्चियन कॉलेज के मैदान में पहुंचीं तो उनका जोरदार स्वागत किया गया। सपा के गढ़ मैनपुरी में मायावती का स्वागत करने वालों में बड़ी संख्या सपा कार्यकर्ताओं की थी। मायावती ने मैनपुरी लोकसभा सीट से सपा प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव को जिताने की अपील करते हुये कहा ‘‘इस गठबंधन के तहत मैं मैनपुरी में खुद मुलायम के समर्थन में वोट मांगने आई हूं। जनहित में कभी-कभी हमें कुछ कठिन फैसले लेने पड़ते हैं। देश के वर्तमान हालत को देखते हुए यह फैसला लिया गया है।’’

उन्होंने कहा ‘‘ आप मुझसे जानना चाहेंगे कि 2 जून 1995 के गेस्टहाउस कांड के बाद भी सपा-बसपा गठबंधन कर चुनाव क्यों लड़ रहे हैं ? इस गठबंधन के तहत मैं मैनपुरी में खुद मुलायम के समर्थन में वोट मांगने आई हूं। जनहित तथा पार्टी के मूवमेंट के लिए कभी-कभी हमें कुछ कठिन फैसले लेने पड़ते हैं। देश के वर्तमान हालत को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। मेरी अपील है कि पिछड़ों के वास्तविक नेता मुलायम सिंह यादव को चुनकर आप संसद भेजें। उनके उत्तराधिकारी अखिलेश यादव अपनी जिम्मेदारी पूरी निष्ठा से निभा रहे हैं ।’’

मंच पर मुलायम सिंह के पहुंचने पर मायावती ने खड़े होकर उनका स्‍वागत किया। मायावती ने कहा कि मैनपुरी के लोग मुलायम को ‘‘असली नेता’’ मानते हैं, खासकर पिछड़े वर्ग के लोग। ‘‘मुलायम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह फर्जी पिछड़े वर्ग के नहीं हैं। मुलायम सिंह असली पिछड़े वर्ग के हैं, वह मोदी की तरह फर्जी पिछड़े वर्ग के नहीं हैं।’’ इस अवसर पर सपा सरक्षंक मुलायम सिंह यादव ने कहा ‘‘बहुत दिनों के बाद हम और मायावती एक मंच पर हैं।’’

सपा को जिताने तथा कार्यकर्ताओं से मायावती का हमेशा सम्मान करने की अपील करते हुए मुलायम ने कहा ‘‘आज महिलाओं का शोषण हो रहा है। इसके लिए हमने लोकसभा में सवाल उठाया। संकल्प लिया गया कि महिलाओं का शोषण नहीं होने दिया जाएगा। आज हमारी आदरणीय मायावती जी आई हैं। हम उनका स्वागत करते हैं। मैं आपके इस अहसान को कभी नहीं भूलूंगा। मायावती जी का हमेशा बहुत सम्मान करना। समय-समय पर उन्होंने हमारा साथ दिया है।’’ इस अवसर पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मौजूद थे।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Lok Sabha Chunav 2019 News in Hindi के लिए क्लिक करें इलेक्‍शन सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X