1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में हो सकते हैं शामिल, बनाए जाएंगे कैबिनेट मंत्री: सूत्र

ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में हो सकते हैं शामिल, बनाए जाएंगे कैबिनेट मंत्री: सूत्र

कांग्रेस से बगावत कर चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक सिंधिया को बीजेपी राज्यसभी भेजेगी और उसके बाद मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार में उन्हें कैबिनेट मंत्री भी बनाया जा सकता है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 10, 2020 8:44 IST
ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में हो सकते हैं शामिल, बनाए जाएंगे कैबिनेट मंत्री: सूत्र- India TV Hindi
Image Source : FILE ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में हो सकते हैं शामिल, बनाए जाएंगे कैबिनेट मंत्री: सूत्र

नई दिल्ली: कांग्रेस से बगावत कर चुके ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक सिंधिया को बीजेपी राज्यसभा भेजेगी और उसके बाद मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार में उन्हें कैबिनेट मंत्री भी बनाया जा सकता है। इसके साथ ही कर्नाटक पहुंचे कांग्रेस के विधायक आज विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे सकते हैं जिसके बाद बीजेपी मध्य प्रदेश में शिवराज के नेतृत्व में जल्द बीजेपी सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। बताया जा रहा है कि सिधिया पिछले 8 महीने से बीजेपी नेताओं के संपर्क में हैं। 

इस बीच सिंधिया आज ग्वालियर पहुंच रहे हैं। आज ज्योतिरादित्य सिंधिया के पिता माधवराव सिंधिया की जयंती है। कल कांग्रेस के तमाम नेताओं ने ज्योतिरादित्य से बात करने की कोशिश की लेकिन वो नाकाम रहे। यहां तक कि ज्योतिरादित्य को मनाने के लिए सोनिया गांधी ने दो नेताओं को भेजा लेकिन ज्योतिरादित्य ने किसी से बात नहीं की।

सोनिया गांधी से पहले कमलनाथ ने भी ज्योतिरादित्य से बात करने की कोशिश की थी लेकिन वो भी संपर्क कायम नहीं कर सके। इस बीच दिग्विजय सिंह ने बयान दिया कि ज्योतिरादित्य को स्वाइन फ्लू हो गया है जिसकी वजह से वो किसी से बात नहीं कर रहे हैं।

बता दें कि कांग्रेस के करीब 18 विधायक बीजेपी शासित राज्य कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में हैं। ये सभी विधायक ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के हैं। इन 18 विधायकों में से 6 के पास मंत्री पद भी है। माना जा रहा है कि यह सभी चाहते हैं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया जाए और मध्य प्रदेश में कांग्रेस की कमान भी उनके हाथों में दी जाए। इसी के मद्देनजर दबाव बनाने के लिए ऐसा किया गया है।

bigg boss 15