1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. National Girl Child Day 2022 : महिलाएं कैसे रखें खुद को फिट? स्वामी रामदेव से जानिए कारगर उपाय और योगासन

National Girl Child Day 2022 : महिलाएं कैसे रखें खुद को फिट? स्वामी रामदेव से जानिए कारगर उपाय और योगासन

स्वामी रामदेव से जानिए महिलाओं को खुद को फिट रखने के लिए कौन से योगासन करने चाहिए?  

India TV Health Desk Written by: India TV Health Desk
Published on: January 24, 2022 11:12 IST
ramdev- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV ramdev

Highlights

  • दूध, दही और पनीर खाएं।
  • खाने में अलसी को शामिल करें।

वक्त के साथ काफी कुछ बदला गया है। अब ऐसे लोगों की भी कमी नही हैं, जो बेटियों के होने पर फक्र करते हैं। उसकी परवरिश में कोई कसर नहीं छोड़ते। हालांकि एक ऐसा दौर भी था जब बेटियों को जन्म से पहले ही मार दिया जाता था, भेदभाव होता था। लेकिन अब बेटियों को बराबरी का दर्जा देने के लिए 24 जनवरी यानि आज के दिन को 'नेशनल गर्ल चाइल्ड डे' के तौर पर मनाया जाता है। क्योंकि, 24 जनवरी को पहली बार देश की प्रधानमंत्री एक महिला बनी थीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 2015 में 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान की शुरुआत की थी जिसका असर भी खूब देखने को मिल रहा है। एक ताजा सर्वे के मुताबिक देश में 1 हजार मर्दों के अनुपात में अब 1 हजार 20 औरते हैं। जबकि साल 2011 में 1 हजार पुरुषों के अनुपात में केवल 943 महिलाएं थी।

लेकिन अक्सर महिलाएं अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देती हैं। इसको लेकर उन्हें अभी और जागरूक होने की जरूरत है। देश में लगभग 52% महिलाएं के पास सेहत के लिए वक्त नहीं है। तो वहीं 67% महिलाएं हेल्थ प्रॉब्लम पर बात ही नहीं करतीं। जबकी 22 से 55 साल की उम्र की 59% महिलाएं को हेल्थ इश्यूज की वजह से जॉब छोड़ना पड़ता है। तो करीब 40% महिलाएं किसी ना किसी लाइफस्टाइल डिजीज की दवा ले रही हैं। हालांकि महिलाओं के लिए जरूरी है कि वह सबका ख्याल रखने के साथ साथ अपना भी ख्याल रखें। रेगुलर हेल्थ चेकअप कराएं, टाइम पर खाएं, अच्छी डाइट लें और योग अपनाएं। स्वामी रामदेव से जानिए महिलाओं को खुद को फिट रखने के लिए कौन से योगासन करने चाहिए?

  • 70 प्रतिशत महिलाओं में विटामिन डी की कमी। 
  • देश की 53 फीसदी महिलाओं में एनीमिया। 
  • 70 फीसदी महिलाओं में कैल्शियम की कमी। 

 

बॉडी में डेफिशियेंसी:
 

  • खून
  • कैल्शियम
  • मिनरल
  • विटामिन B-12
  • विटामिन - D

 
महिलाओं में बीमारियां:

  • ऑस्टियोपोरोसिस
  • एनीमिया 
  • पीसीओडी
  • डायबिटीज
  • थायराइड
  • ब्रेस्ट कैंसर
  • सर्वाइकल कैंसर
  • अर्थराइटिस

मजबूत हों महिलाएं:

  •  13 से 19 की उम्र में नए हार्मोन बनते हैं- आयरन लें। 
  • 20 की उम्र में हार्मोनल चेंज होते हैं- विटामिन D लें और खाने पर ध्यान दें। 
  • 30 की उम्र प्रेग्नेंसी की उम्र होती है- फॉलिक एसिड लें, हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं। 
  • 40-50 की उम्र प्री-मेनोपॉज का समय है- आयरन लें, प्रोटीन लें, वजन का ध्यान रखें। 
  • 50 की उम्र के बाद- विटामिन B लें, फॉलिक एसिड लें, हड्डियों के लिए कैल्शियम, मैग्नीशियम लें। 

 
महिलाओं के लिए योग:
 

  • शीर्षासन
  • सर्वांगासन
  • उत्तानपादासन
  • शलभासन
  • गोमुखासन
  • हलासन
  • योग मुद्रासन
  • पादहस्तासन
  • यौगिक जॉगिंग
  • सूर्य नमस्कार 

 
यौगिक जॉगिंग के फायदे:
 

  • ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करता है। 

 दंड बैठक के फायदे:
 

  • डिप्रेशन दूर होता है।
  • शरीर के मसल्स मजबूत होते हैं। 

 
सर्वांगासन के फायदे:

  • तनाव और चिंता से मुक्ति मिलती है।
  • दिल तक शुद्ध रक्त पहुंचता है। 
  • एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है। 
  • याद की हुई चीजें भूलती नहीं। 

 
मंडूकासन के फायदे:
 

  • डायबिटीज को दूर भगाता है। 
  • पेट और दिल के लिए लाभकारी है। 
  • कंसंट्रेशन की क्षमता बढ़ती है। 
  • पाचन तंत्र सही करने में सहायक है।
  • लिवर और किडनी को स्वस्थ रखता है। 

 
 सूर्य नमस्कार के फायदे:
 

  • ब्लड शुगर को कम करने में कारगर है। 
  • हार्ट मजबूत होता है। 
  • रोज करने से शरीर काफी लचीला होता है। 
  • कमर की चर्बी पूरी तरह से खत्म हो जाती है। 
  • कद बढ़ाने में भी मदद मिलती है।
  • वजन घटाने में मदद मिलती है।
  • मन को शांत रखने में सहायक है। 

 
उष्ट्रासन के फायदे:
 

  • किडनी को स्वस्थ बनाता है।
  • मोटापा दूर करने में सहायक है।
  • शरीर का पोश्चर सुधरता है। 
  • पाचन प्रणाली को ठीक होती है। 
  • टखने के दर्द को दूर भगाता है। 

 
चक्की आसन के फायदे: 
 

  • अच्छी नींद और पेट कम करने में फायदेमंद है। 
  • पीठ और पेट की अच्छी एक्सरसाइज।
  • तनाव कम करने में कारगर है। 
  • जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है

 
महिलाओं के लिए प्राणायाम:
 

  • अनुलोम विलोम
  • कपालभाति 
  • भस्त्रिका
  • भ्रामरी
  • उज्जायी
  • उद्गीथ

 
आयरन की कमी को करें दूर:

  • गन्ने का रस पिएं।
  • खाने में गुड़ और खजूर को शामिल करें। 
  • अंजीर, मुनक्का भिगोकर खाएं। 
  • अनार, गाजर, चुकंदर का रस पिएं।

 विटामिन B-12 की कमी का उपाय: 
 

  • अंकुरित अनाज में आयरन होता है।
  • नाश्ते में अंकुरित लें। 
  • खाने में अलसी को शामिल करें। 

 
अर्थराइटिस में घरेलू उपचार:
 

  • दूध, दही और पनीर खाएं। 
  • खट्टा दही बिल्कुल भी ना खाएं।
  • जौ, चौलाई, सिंघाड़े का आटा खाएं। 
erussia-ukraine-news