Yoga Tips: शरीर के लिए जरूरी है पॉजिटिव एनर्जी, Swami Ramdev से जानिए चुस्त-दुरुस्त रहने का तरीका

Yoga Tips: आजकल लोग हर वक्त थके-थके रहते है और बॉडी पेन की शिकायत करते हैं। पूरा दिन सुस्ती छाई रहती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि मामूली सी लगने वाली ये थकावट थायराइड, शुगर, लिवर और दिल की गंभीर बीमारी का सिग्नल हो सकती है।

Written By : Sajid Khan Alvi Edited By : Akanksha TiwariPublished on: September 28, 2022 9:19 IST
Yoga tips- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/SWAAMIRAMDEV Swami Ramdev से जानिए चुस्त-दुरुस्त रहने का तरीका

Highlights

  • हाई एनर्जी वाले लोग गंभीर से गंभीर बीमारियों का भी डटकर सामना करते हैं
  • हार्ट अटैक के मामलों में महीनों पहले से थकान की शिकायत देखी गई है
  • नेगेटिव एनर्जी से बीमारी से लड़ने की क्षमता घट जाती है

Yoga Tips: अपना बैंक बैलेंस बढ़ाने और सक्सेस पाने की रेस में हम पूरा दिन मशीन की तरह शरीर से काम लेते हैं। लेकिन क्या कभी ये सोचा है कि भगवान की सबसे बड़ी नेमत इस शरीर का ख्याल कैसे रखें। आजकल के सुपर हेक्टिक लाइफस्टाइल में लोगों के पास ये सोचने का वक्त ही नहीं है कि वो सेहत पर ध्यान दें, अच्छा खाना खाएं, वक्त पर सोएं, रेगुलर योग-वर्कआउट करें औऱ इसी का खामियाज़ा उनको भुगतना पड़ रहा है। आजकल लोग हर वक्त थके-थके रहते है और बॉडी पेन की शिकायत करते हैं। पूरा दिन सुस्ती छाई रहती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि मामूली सी लगने वाली ये थकावट थायराइड, शुगर, लिवर और दिल की गंभीर बीमारी का सिग्नल हो सकती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक तो हार्ट अटैक के लगभग 70 प्रतिशत मामलों में महीनों पहले से थकान की शिकायत देखी गई है। इन बीमारियों के अलावा हर वक्त सुस्त रहने की एक बड़ी वजह शरीर में एनर्जी की कमी भी है। अगर पूरी बॉडी में ऊर्जा का संचार नहीं होगा तो आप दिनभर थकान महसूस करेंगे और इसका असर मेंटल हेल्थ पर भी पड़ेगा। जिससे गुस्सा और चिड़चिड़ापन आप पर हावी होने लगेगा।

यह भी पढ़ें: High Cholesterol: हाई कोलेस्ट्रॉल से हैं परेशान? लाइफस्टाइल से बदलें बस 7 आदतें और देखें कमाल

ये एनर्जी ही है जो किसी भी काम को करने के लिए शरीर को ताकत देती है और बीमारियों से लड़ने में मदद करती है। तभी तो कम एनर्जी वाले मामूली सर्दी ज़ुकाम में भी बिस्तर पकड़ लेते हैं तो हाई एनर्जी वाले लोग गंभीर से गंभीर बीमारियों का भी डटकर सामना करते हैं। सच तो ये है कि अगर आप बीमार भी हैं तो पॉज़िटिव एनर्जी और थिंकिंग से आप अच्छे हो सकते हैं।

Diabetes Tips: शुगर से पाना चाहते हैं छुटकारा! आज से ही शुरू करें ये काम

बीमारी की हालत में अगर शरीर की ऊर्जा नेगेटिव एनर्जी में बदलती है तो बीमारी से लड़ने की क्षमता भी घट जाती है। इसलिए ज़रूरी है कि आप भरपूर पॉज़िटिव एनर्जी अपने अंदर रखें ताकि पूरे दिन चुस्त दुरुस्त और सुपर एक्टिव रहें। जो योग के ज़रिए मुमकिन है लेकिन कितनी देर और कौन से योगाभ्यास से शरीर में ऊर्जा का संचार होगा जानें स्वामी रामदेव से।

PM Modi की तरह 72 की उम्र में रहना चाहते हैं चुस्त-दुरुस्त, स्वामी रामदेव से जानिए योगा और प्राणायाम के टिप्स

शरीर के लिए ज़रूरी 

  1. विटामिन
  2. मिनरल
  3. प्रोटीन
  4. भरपूर नींद
  5. रेगुलर वर्कआउट

पॉज़िटिव एनर्जी के फायदे

  1. इम्यून सिस्टम मज़बूत होता है
  2. दिनभर एक्टिव रहेंगे     
  3. ग्लोइंग स्किन होगी
  4. मेंटली फिट रहेंगे

नेगेटिव एनर्जी कैसे करें दूर 

  1. प्राणायाम करें
  2. मेडिटेशन करें
  3. सुबह-शाम पार्क में टहलें
  4. चेहरे परमुस्कान लाएं
  5. शिकायतों पर ध्यान ना दें

इन तरीकों से दूर होगी सुस्ती बढ़ेगी चुस्ती 

  1. रोज़ वॉक करें
  2. दिन में 3-4 लीटर पानी पीएं
  3. चाय-कॉफी कम पीएं
  4. स्मोकिंग-एल्कोहल से दूर रहें
  5. पूरी नींद लें

पॉज़िटिव एनर्जी कैसे पाएं

  1. नेगेटिव लोगों से दूर रहें
  2. दिमाग को बिज़ी रखें
  3. आसपास सफाई रखें
  4. प्राणायाम करें
  5. ध्यान-मेडिटेशन करें
  6. हास्य योग करें

सेहत को दमदार बनाने में फायदेमंद है ये औषधी

गिलोय, तुलसी, अश्वगंधा सेहत को दमदार बनाने में बेहद फायदेमंद है। गिलोय, तुलसी, अश्वगंधा की एक-एक गोली खाने के बाद खाएं। खाली पेट सुबह-शाम श्वसारि एक-एक गोली लें।

हार्ट को हेल्दी रखने के लिए

अर्जुन की छाल-दालचीनी का काढ़ा पीएं। जिसके लिए 2-3 ग्राम अर्जुन छाल पानी में पकाएं। काढ़ा पूरी तरह उबल जाने पर पीएं।

बीमारी रहेगी कंट्रोल

  1. रोजाना अंकुरित मेथी खाएं 
  2. रोज गिलोय का काढ़ा पीएं
  3. तुलसी से होगी शुगर कंट्रोल 
  4. दालचीनी से डायबिटीज कंट्रोल 

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन